Saturday , October 21 2017
Home / India / इंदिरा गांधी को खिराजे अक़ीदत

इंदिरा गांधी को खिराजे अक़ीदत

क़ौम ने साबिक़ वज़ीर-ए-आज़म इंदिरा गांधी को उनकी 9 वीं बरसी पर सदर जम्हूरिया प्रण‌ब मुखर्जी की ज़ेर-ए-क़ियादत भरपूर ख़िराज-ए-अक़ीदत पेश किया। आँजहानी वज़ीर-ए-आज़म को ख़िराज-ए-अक़ीदत पेश करने वालों में दीगर कई क़ाइदीन भी शामिल थे।

क़ौम ने साबिक़ वज़ीर-ए-आज़म इंदिरा गांधी को उनकी 9 वीं बरसी पर सदर जम्हूरिया प्रण‌ब मुखर्जी की ज़ेर-ए-क़ियादत भरपूर ख़िराज-ए-अक़ीदत पेश किया। आँजहानी वज़ीर-ए-आज़म को ख़िराज-ए-अक़ीदत पेश करने वालों में दीगर कई क़ाइदीन भी शामिल थे।

प्रणब मुकर्जी ने शक्ति स्थल पर जो आँजहानी इंदिरा गांधी की यादगार है, फूल मालाएं चढ़ाते हुए उन्हें ख़िराज-ए-अक़ीदत पेश किया। उनके बाद वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह और सदर कांग्रेस सोनिया गांधी ने उनकी तक़लीद की। ख़िराज-ए-अक़ीदत पेश करने वालों में मर्कज़ी वुज़रा सुशील कुमार शिंदे, कमल नाथ, ऑस्कर फ़र्नांडीज़, ऐम वीरप्पा मोईली और कृष्णा तीर्थ शामिल थे। भक्ती गीत साज़ पर पेश किए गए।

इंदिरा गांधी की एक तक़रीर का रिकार्ड भी इस मौक़े पर बजाया गया। साबिक़ वज़ीर-ए-आज़म आँजहानी इंदिरा गांधी को 31 अक्टूबर 1984 को ख़ुद उनके बॉडी गार्ड्स ने गोली मारकर हलाक कर दिया था।

TOPPOPULARRECENT