Tuesday , October 24 2017
Home / India / इजतिमाई इस्मत रेज़ि वाक़िया की तहक़ीक़ात के लिए क़ायम जस्टिस वर्मा कमेटी की कार्रवाई का आग़ाज़

इजतिमाई इस्मत रेज़ि वाक़िया की तहक़ीक़ात के लिए क़ायम जस्टिस वर्मा कमेटी की कार्रवाई का आग़ाज़

नई दिल्ली, 25 दिसंबर: (पीटीआई ) अदालती ओहदेदारों की तीन रुकनी जस्टिस वर्मा कमेटी ने दिल्ली इजतिमाई इस्मत रेज़ि वाक़िया की तहक़ीक़ात का आग़ाज़ कर दिया है ।

नई दिल्ली, 25 दिसंबर: (पीटीआई ) अदालती ओहदेदारों की तीन रुकनी जस्टिस वर्मा कमेटी ने दिल्ली इजतिमाई इस्मत रेज़ि वाक़िया की तहक़ीक़ात का आग़ाज़ कर दिया है ।

ये कमेटी जिन्सी हमलों के मुजरिमीन को ज़्यादा सख़्त सज़ा और उनके मुक़द्दमात की तेज़ रफ़्तार यकसूई के बारे में अपनी सिफ़ारिशात पेश करेगी । इस कमेटी ने आज अपने काम का आग़ाज़ करते हुए नोटिस जारी कर दी और ख़ाहिश की कि 5 जनवरी तक इस मसला पर अवाम अपनी राय कमेटी तक पहुंचा दें । इस कमेटी की सरबराही साबिक़ चीफ़ जस्टिस आफ़ इंडिया जे एस वर्मा के सुपुर्द की गई हैं ।

कमेटी ने उमूमी एतबार से अवाम और ख़ुसूसी एतबार से मुमताज़ क़ानून दानों , क़ानूनी पेशा में शामिल अफ़राद , ग़ैर सरकारी तंज़ीमों , ख़वातीन के ग्रुप्स , शहरी मुआशरे के अरकान से मौजूदा क़वानीन के बारे में राय तलब की है और उन क़वानीन का जायज़ा लेने की ख़ाहिश की है ताकी आजलाना इन्साफ़ रसानी और ख़ातियों को सख़्त तरीन सज़ाएं यक़ीन बनाई जा सके ।

एक सरकारी बयान में जो आज जारी किया गया कहा गया है कि तब्सिरे , ई मेल आई डी , [email protected]या 011-23092675 पर फैक्स के ज़रीया दाख़िल किए जा सकते हैं ।

ये कमेटी इजतिमाई इस्मत रेज़ि वाक़िया के बाद शदीद अवामी एहतिजाज के पेशे नज़र क़ायम की गई है और तेज़ गाम अदालतों की जानिब से फ़ौजदारी क़वानीन पर अमल आवरी करते हुए जिन्सी हमलों के ख़ातियों को मुम्किना हद तक सख़्त सज़ाओं को यक़ीनी बनाने में मदद करेगी ।

कमेटी के दीगर अरकान में रिटायर्ड जस्टिस लीला सेठ , साबिक़ चीफ़ जस्टिस हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट और गोपाल सुब्रामणियम साबिक़ सालीसीटर जनरल आफ़ इंडिया शामिल हैं इस कमेटी को अपनी रिपोर्ट हुकूमत के सामने पेश करने के लिए 30 दिन की मोहलत दी गई है ।

TOPPOPULARRECENT