Monday , August 21 2017
Home / AP/Telangana / इन्कम टैक्स धाओं की अफ़्वाहें, ताजरीन में ख़ौफ़ बाज़ार बंद

इन्कम टैक्स धाओं की अफ़्वाहें, ताजरीन में ख़ौफ़ बाज़ार बंद

हैदराबाद 13 नवंबर: शहर में इन्कम टैक्स-ओ-सेल्स टैक्स के धाओं की इत्तेलाआत ने ताजरीन में ख़ौफ़-ओ-हिरास पैदा कर दिया है।दोनों शहरों के मुख़्तलिफ़ इलाक़ों में ताजरीन ने दोपहर के बाद ही बाज़ार बंद करने शुरू कर दिए हैं जिसके सबब अवाम में भी बेचैनी पैदा हो गई।

मुल्क के मुख़्तलिफ़ रियास्तों में इन्कम टैक्स धाओं की इत्तेला के बाद दोपहर जब बेगम बाज़ार के दुकानों में इन्कम टैक्स-ओ-सेल टैक्स ओहदेदारों के धाओं की इत्तेला मौसूल हुई तो यकायक बेगम बाज़ार में सन्नाटा छा गया और इस इत्तेला के तेज़ी से गशत करने के सबब उस का असर शहर के दुसरे बाज़ारों पर भी देखा गया। इन इत्तेलाआत के दौरान नोटों की तंसीख़ के ख़िलाफ़ भारत बंद की अफ़्वाहें गशत करने लगी जिसके सबब अवाम के ख़ौफ़-ओ-हिरास में मज़ीद इज़ाफ़ा हो गया।

दोनों शहरों के अश्या-ए-ज़रुरीया की दुक्कानात में ग्राहकों का हुजूम देखा जाने लगा। मलकपेट में वाक़्ये महबूब गंज मार्किट भी 5 बजे के क़रीब अचानक बंद कर दिया गया क्युंकि इस बाज़ार में भी इन्कम टैक्स और कमर्शियल टैक्स के ओहदेदारों के धावे की इत्तेलाआत मौसूल हुईं जिस पर दुकानदारों ने अपनी दुकानें बंद करते हुए हुकूमत की इन कार्यवाहीयों पर ब्रहमी का इज़हार किया।

आम गाहक जिनके पास पैसे मौजूद होने के बावजूद वो ख़रीदारी से क़ासिर हैं इन ग्राहकों को तबदील शूदा नोट हासिल नहीं हो रहे हैं और वो इन अफ़्वाहों के दौरान अश्या-ए-ज़रुरीया के हुसूल की कोशिश में दुक्कानात के चक्कर काट रहे हैं। इसी तरह दुकानदारों की शिकायत है कि ठोक बयोपोरी 1000 और 500 के नोट नहीं ले रहे हैं जिसके सबब वो होलसेल ख़रीदारी से क़ासिर हैं।
ताजरीन और ग्राहकों के बीच इस तज़बज़ब के सबब अवाम में ख़ौफ़ पैदा हो रहा है।

शाम 7 बजे के क़रीब अचानक पुराने शहर की मारूफ़ कपड़े की मार्किट मदीना मार्किट भी इन अफ़्वाहों का असर होने लगा और दुक्कानात तेज़ी से बंद कर दी गईं इस अहम बाज़ार के बंद होने की इत्तेला तेज़ी से फैलने के सबब शहर के कई ताजरीन ने ख़ुद को महफ़ूज़ रखने के लिए दुक्कानात से अश्या की मुंतकली शुरू कर दी।

TOPPOPULARRECENT