Sunday , October 22 2017
Home / World / इमदाद के लिए अज़ीम तर तआवुन पर बशारुल असद का ज़ोर

इमदाद के लिए अज़ीम तर तआवुन पर बशारुल असद का ज़ोर

सदर शाम बशारुल असद ने आज सरकारी इदारों पर जिन्हें जंग ज़दा शाम में राहत रसानी की ज़िम्मेदारी सपुर्द की गई है, बैनुल अक़वामी और मुक़ामी तनज़ीमों के साथ तआवुन में इज़ाफ़ा पर ज़ोर दिया।

सदर शाम बशारुल असद ने आज सरकारी इदारों पर जिन्हें जंग ज़दा शाम में राहत रसानी की ज़िम्मेदारी सपुर्द की गई है, बैनुल अक़वामी और मुक़ामी तनज़ीमों के साथ तआवुन में इज़ाफ़ा पर ज़ोर दिया।

सरकारी टेली वीज़न की ख़बर के बामूजिब अक़वामे मुत्तहिदा के सरब्राह बान्की मून ने एक रिपोर्ट जारी की है जिस में कहा गया है कि गैर मुल्की इमदाद अब भी शाम के ज़रूरतमंद लाखों अफ़राद तक नहीं पहुंच रही है, हालाँकि सलामती कौंसिल ने फरवरी में एक क़रारदाद मंज़ूर करते हुए अज़ीम तर रसाई फ़राहम करने का मुतालिबा किया था।

गुज़िश्ता हफ़्ता बान्की मून की रिपोर्ट में जंग के दोनों फ़रीक़ैन पर इल्ज़ाम आइद किया गया है, लेकिन खासतौर पर हुकूमत को सरज़निश की गई है। आज सरकारी टी वी के नशरिया की झलकियों में बशारुल असद को शाम की सरकारी राहत रसां कमेटी के नुमाइंदों से मुलाक़ात करते हुए दिखाया गया।

उस की बजाय उन्हों ने कहा है कि क़ौमी ख़ुदमुख़तारी की कीमत पर कोई समझौता किए बगैर इमदाद की सरब्राही बेहतर बनाई जानी चाहीए।

TOPPOPULARRECENT