Friday , October 20 2017
Home / Islami Duniya / इराक़-सुन्नी नायब सदर के गिरफ़्तारी वारंट से बोहरान

इराक़-सुन्नी नायब सदर के गिरफ़्तारी वारंट से बोहरान

बग़दाद 22 दिसमबर (राइटर्स) आख़िरी अमरीकी फ़ौजी के इराक़ से रुख़सत होने के फ़ौरीबाद इराक़ मै सयासी बोहरान पैदा होगया है। ये जमहूरी मुलक अब भी मुस्तहकम जमहूरीया नहीं बन सका। अमरीकी फ़ौज के तख़लिया के फ़ौरी बाद इराक़ की शीया हुकूमत

बग़दाद 22 दिसमबर (राइटर्स) आख़िरी अमरीकी फ़ौजी के इराक़ से रुख़सत होने के फ़ौरीबाद इराक़ मै सयासी बोहरान पैदा होगया है। ये जमहूरी मुलक अब भी मुस्तहकम जमहूरीया नहीं बन सका। अमरीकी फ़ौज के तख़लिया के फ़ौरी बाद इराक़ की शीया हुकूमत ने सुन्नी हरीफ़ों के गिरफ़्तारी वारंट जारी करेंगे। वज़ीर-ए-आज़म नूरी अलमालिकी ने सुन्नी नायब सदर तारिक़ अलहाशमी पर इल्ज़ाम आइद करते हुए कि वो क़तल की वारदातों कीसाज़िश कररहे हैं, इन का और नायब वज़ीर-ए-आज़म सालिह अलमतलब के गिरफ़्तारी वारंट जारी करदिए।

नायब वज़ीर-ए-आज़म भी सुन्नी फ़िर्क़ा से ताल्लुक़ रखते हैं। रोज़नामाउल-सबाह मैं शाय शूदा कार्टून से इराक़ में पैदा होने वाले सयासी बोहरान की अक्कासीहोती है। ताज़ा बोहरान से अंदेशा पैदा होगया है कि मख़लूत हुकूमत इक़तिदार से बेदख़ल होने के संगीन ख़तरा का सामना कररही है। कुरद अरकान फ़िर्कावाराना बुनियाद पर मुत्तहिद होगए हैं, जिस की वजह से 2006-07-की तरह फ़िर्कावाराना बुनियाद पर क़तल-ए-आम के अंदेशे पैदा होगए हैं।

पड़ोसी मुल्क शाम में भी फ़िर्कावाराना तशद्दुद जारी है, जबकि तुर्की सुन्नी ख़लीजी अरब ममालिक की ताईद में है ।

TOPPOPULARRECENT