Wednesday , October 18 2017
Home / Islami Duniya / इरान की न्यूक्लीयर ताक़त का मुज़ाहरा , अफ़ज़ोदगी प्रोजेक्ट का आग़ाज़

इरान की न्यूक्लीयर ताक़त का मुज़ाहरा , अफ़ज़ोदगी प्रोजेक्ट का आग़ाज़

सदर इरान अहमदी नज़ाद ने आज तीन नए न्यूक्लीयर प्रोजेक़्टस का इफ़्तिताह (शुरूआत) किया। मुनाक़िदा इस तक़रीब को इरान के टी वी चैनलों पर बताया गया है। तेहरान में इरानी एटमी तंज़ीम पर सदर अहमदी नज़ाद ने इरान के पहले देसी साख़ता न्यूक्लीयर फ्यू

सदर इरान अहमदी नज़ाद ने आज तीन नए न्यूक्लीयर प्रोजेक़्टस का इफ़्तिताह (शुरूआत) किया। मुनाक़िदा इस तक़रीब को इरान के टी वी चैनलों पर बताया गया है। तेहरान में इरानी एटमी तंज़ीम पर सदर अहमदी नज़ाद ने इरान के पहले देसी साख़ता न्यूक्लीयर फ्यूल राडस को मेडीकल री एक्टर में शामिल करने की तक़रीब का मुशाहिदा किया।

सदर ने इस के बाद वीडियो कान्फ्रेंस के ज़रीया दीगर दो प्रोजेक्टस का भी इफ़्तिताह किया । ये प्रोजेक़्टस इरान के वस्त में नतनज़ प्लांट में शुरू किए गए। इस प्लांट में अब 20 फीसद यूरेनियम ताबकारी तैयार करने की सलाहियत पैदा होगी। इस के बाद उसे नई नवीत के सैनिटरी फ्यूज तैयार करने में इस्तेमाल किया जाएगा जो साबिक़ मॉडल्स से हट कर सब से आला तरीन ताबकारी निज़ाम तैयार करने के अहल होंगे ।

तेहरान में मुनाक़िदा तक़रीब में वज़ीर ख़ारिजा अली अकबर सालही और न्यूक्लीयर सरबराह मुहम्मद अब्बास भी शरीक थे। इरान के टेलीवीज़न नेटवर्क आई आर आई एन बी ने सूबा कीम में फ़ोरडो मुक़ाम पर मुनाक़िदा नए ताबकारी अफ़ज़ोदगी की निशानदेही की गई है जो तवक़्क़ो है कि सदर इरान की जानिब से इफ़्तेताह कर्दा प्रोग्रामों में से एक है। तेहरान से 160 किलो मीटर दूर वाक़्य इस यूनिट में यूरेनियम अफ़ज़ोदगी तैयार करने की सलाहियत.5, 4 सतहों तक है और इस में 20 फीसद तक इज़ाफ़ा होगा।

तेहरान री एक्टर को 1967 में क़ायम किया गया था जहां 5 मेगावाट के पोल टाइप आलात नसब किए गए थे । सब से पहले इस री एक्टर के लिए इंधन अरजंटीना ने फ़राहम किए थे लेकिन चंद सालों के बाद उसे रोक दिया गया। नए प्लांटस के लिए रूस और फ़्रांस की जानिब से इंधन सरबराह किया जाने वाला था लेकिन उसे अक्तूबर 2009 -ए-में रोक दिया गया।

इरान ने अपने तौर पर ही इंधन तैयार करना शुरू किया। सब से पहले इस ने 20 फीसद अफ़ज़ोदगी को तैयार किया , इस के बाद उसे फ्यूल राडस में तब्दील कर दिया। न्यूक्लीयर अफ़ज़ोदगी सियोल न्यूक्लीयर बर्क़ी की पैदावार और एटमी हथियारों दोनों की तैयारी के लिए अहमियत रखते हैं। इरान ने कहा कि इस ने देसी तौर पर तैयार कर्दा न्यूक्लीयर फ्यूल राडस को तेहरान रिसर्च री एक्टर में लोड करने का काम शुरू कर दिया है । इरान का ये क़दम मग़रिबी सख़्त तहदेदात के ख़िलाफ़ ललकारने के मुतरादिफ़ है।

सरकारी न्यूज़ एजेंसी अरुणा ने कहा है कि सदर महमूद अहमदी नज़ाद ने इस प्रोजेक्ट का आग़ाज़ किया है । टी वी चैनलों पर बताया गया है कि अहमदी नज़ाद को इरान के न्यूक्लीयर माहिरीन तफ़सीलात से वाक़िफ़ करा रहे हैं। ये तबदीली उस वक़्त सामने आई जब इरान ने ये कहा कि वो 6 योरोपी ममालिक नीदरलैंड , स्पेन , इटली , फ़्रांस , यूनान और पुर्तगाल को अपनी तेल की बरामदात में कटौती कर रहा है । सदर अहमदी नज़ाद ने मग़रिबी दुनिया को ललकारते हुए न्यूक्लीयर अफ़ज़ोदगी प्रोग्राम का आग़ाज़ किया है। इससे इरान के मुतनाज़ा एटमी अज़ाइम पर मग़रिब के साथ बढ़ते तसादुम में इज़ाफ़ा होगा ।

न्यूक्लीयर प्रोजेक़्ट के ऐलान से ज़ाहिर होता है कि इरान अपने अज़ाइम पर क़ायम है। मग़रिबी तहदेदात के बावजूद अपनी तवानाई के तहफ़्फ़ुज़ और इस के वक़ार को बरक़रार रखने कोशां हैं। इरान ने चंद बरसों से अपने न्यूक्लीयर हथियारों का तजुर्बा भी किया था। जनवरी में इस ने कहा था कि इस ने न्यूक्लीयर पावर प्लांटस में न्यूक्लीयर राडस बनाने और तजुर्बा करने में कामयाबी हासिल की। न्यूक्लीयर प्रोजेक़्ट के आग़ाज़ का आज ऐलान करने का मक़सद ये होसकता है कि मग़रिबी दुनिया को बताया जाय कि आलमी तहदेदात के बावजूद इरान को इस के अज़ाइम पर अमल करने में कोई रुकावट पैदा नहीं हुई । 6 आलमी ताक़तों के साथ मुज़ाकरात के एहया-ए-के लिए इस ने अपने हाथों को मज़ीद मज़बूत कर लिया है ।

सदर अमेरीका बारक ओबामा ने इरान के ख़िलाफ़ कार्रवाई करने पर ज़ोर दिया है। ओबामा नज़म-ओ-नसक़ ने सारी दुनिया पर ज़ोर दिया है कि वो इरान को यक्का-ओ-तन्हा कर दें।

TOPPOPULARRECENT