Friday , October 20 2017
Home / Business / इरान से तेल की खरीदी बरक़रार ,अमरीकी तहदेदात नज़र अंदाज: मथाई

इरान से तेल की खरीदी बरक़रार ,अमरीकी तहदेदात नज़र अंदाज: मथाई

नई दिल्ली, १८ जनवरी (पी टी आई) हिंदूस्तान ने कहा कि इरान के ख़िलाफ़ तहदेदात के बावजूद वो तेल की खरीदारी जारी रखेगा। अमेरीका ने इरान के मुतनाज़ा न्यूक्लीयर प्रोग्राम की बिना तेल की बरामदात पर तहदेदात आइद करते हुए बड़े पैमाना पर मुहिम श

नई दिल्ली, १८ जनवरी (पी टी आई) हिंदूस्तान ने कहा कि इरान के ख़िलाफ़ तहदेदात के बावजूद वो तेल की खरीदारी जारी रखेगा। अमेरीका ने इरान के मुतनाज़ा न्यूक्लीयर प्रोग्राम की बिना तेल की बरामदात पर तहदेदात आइद करते हुए बड़े पैमाना पर मुहिम शुरू कर रखी है।

हिंदूस्तानी मोतमिद ख़ारिजा रंजन मथाई ने आज एक प्रेस कान्फ़्रैंस से ख़िताब करते हुए कहा कि अक़वाम-ए-मुत्तहिदा ने जो तहदेदात आइद की हैं हम उसे क़बूल करते हैं। दीगर तहदेदात का इन्फ़िरादी तौर पर किसी मुल़्क पर इतलाक़ नहीं हो सकता। उन्हों ने कहा कि हम इरान से तेल की खरीदारी जारी रखेंगे ।

हिंदूस्तान को सऊदी अरब के बाद इरान दूसरा सब से ज़्यादा तेल सरबराह करने वाला मुल्क है। मुल्क की तेज़ रफ़्तार तरक़्क़ी पज़ीर मईशत का तकरीबन 12 फीसद इरान सरबराह करता है जिस की लागत तकरीबन 12 बिलियन डॉलर्स है।

सदर अमेरीका बारक ओबामा ने हाल ही में एक उसे बिल पर दस्तख़त किए जिस के ज़रीया इरान के सेंटर्ल बैंक के साथ तेल की मुआमलत यह रुकमी अदाएगी करने पर जुर्माने आइद करने की गुंजाइश फ़राहम की गई है। इस क़ानून के तहत इन ममालिक को इस्तिस्ना दिया गया है जो नुमायां तौर पर कम करोड़ ऑयल इरान से दरआमद करते हैं।

अमेरीका के इन इक़दामात की वजह से गैर मुल्की फर्म्स के लिए दो ही रास्ते बचे हैं कि वो इरान यह फिर अमेरीका के साथ तिजारती मुआमलत करें। रंजन मथाई ने कहा कि हिंदूस्तान अमरीका से इस्तिस्ना की ख़ाहिश नहीं करेगा ।

गुज़श्ता हफ़्ता जापान ने तेल की इरान से दरआमद कम करने से इनकार किया है जबकि चीन ने अमेरीकी दबाव क़बूल करने से वाज़िह तौर पर इन्कार कर दिया । मोतमिद ख़ारिजा रंजन मथाई ने ये तबसरा इसे वक़्त किया जबकि आला सतही वफ़द तहरान रवाना हुआ है ताकि तेल के इव्ज़ अदाएगी के मुतबादिल रास्तों के बारे में तबादला ख़्याल किया जा सके ।

रंजन मथाई से जब ये पूछा गया कि क्या अमेरीका इन तहदेदात के ख़िलाफ़ हिंदूस्तान को इस्तिस्ना देने की ख़ाहिश करेगा तो उन्हों ने नफ़ी में जवाब दिया और मिसाल दी कि यूरोपियन ममालिक जैसे यूनान की जानिब से अब भी इरान से तेल बरामद किया जा रहा है ।

TOPPOPULARRECENT