Tuesday , October 17 2017
Home / World / इराक़ में फ़ौजी असासे, जायज़ा लेने का वक़्त आ गया – ओबामा

इराक़ में फ़ौजी असासे, जायज़ा लेने का वक़्त आ गया – ओबामा

सदर बराक ओबामा ने कहा है कि इराक़ में दाइश के इंतेहापसंदों से मोअस्सर तौर पर निमटने के लिए, ज़रूरत इस बात की है कि अमरीका और नैटो के इत्तिहादी इस बात को ज़ेरे ग़ौर अब लाएंगे कि फ़ौजी असासे किस तरह इस्तेमाल किए जा रहे हैं।

सदर बराक ओबामा ने कहा है कि इराक़ में दाइश के इंतेहापसंदों से मोअस्सर तौर पर निमटने के लिए, ज़रूरत इस बात की है कि अमरीका और नैटो के इत्तिहादी इस बात को ज़ेरे ग़ौर अब लाएंगे कि फ़ौजी असासे किस तरह इस्तेमाल किए जा रहे हैं।

इस से चंद ही घंटे क़ब्ल, इराक़ ने ऐलान किया कि रमादी के सुबाई दारुल हुकूमत का क़ब्ज़ा छुड़ाने के लिए कार्रवाई का ऐलान किया।
दौरे पर आए हुए नैटो के सेक्रेट्री जेनरल, जेन्स स्टोलटनबर्ग के साथ इजलास के इख़तताम पर गुफ़्तगु करते हुए, ओबामा ने कहा कि इराक़ और शाम में दौलते इस्लामीया के ग्रुप की जानिब से दर्पेश चैलेंज, और लीबिया के तनाज़ा ने इत्तिहाद को मजबूर किया है कि अपने मिशन पर जुनूब के साथ साथ मशरिक़ की जानिब भी निगाह लगाए रखे।

सदर ओबामा ने कहा कि नैटो लाज़िमी तौर पर इन तमाम आलमी चैलेंजों पर नज़र रखे हुए है, ख़ुसूसी तौर पर वो जिन्हें हम जुनूबी महाज़ का नाम देते हैं। जिस ज़िमन में, हमें दाइश के ख़िलाफ़ लड़ाई में राबितों को मोअस्सर बनाने की ज़रूरत है।

TOPPOPULARRECENT