Wednesday , August 23 2017
Home / Uttar Pradesh / इलेक्शन 2017: स्वाति सिंह और राजपूत वोट बैंक पर है बीजेपी की नजर

इलेक्शन 2017: स्वाति सिंह और राजपूत वोट बैंक पर है बीजेपी की नजर

लखनऊ: अपशब्द मामले में पार्टी से निकाले गए दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह को बसपा सुप्रीमो मायावती के विरुद्ध कड़ा रुख अपनाने का इनाम मिलने वाला है। भाजपा उन्हें महिला मोर्चा में बड़ी जिम्मेदारी देने की तैयारी में है। राजपूतों को अपने पाले में लाने के लिए भी ऐसी कोशिशें हो रही हैं।

दयाशंकर सिंह के भाजपा से निकाले जाने के बाद से स्वाति सिंह लगातार प्रदेश के दौरे पर हैं। इस दौरान वह बसपा नेताओं द्वारा उनकी बेटो को लेकर कहे गए आपत्तिजनक बातों का मुद्दा उठाती हैं और मायावती को अपने मुकाबले चुनाव लड़ने की चुनोती देती हैं। अपने इस तेवर से वह कम समय में ही काफी चर्जित हो गई हैं। भाजपा अब इसे भुनाने की फ़िराक में है। भजपा को लगता है कि स्वाति सिंह के आने से जुझारू कार्यकर्ता तो मिलेगा ही महिला मतदाताओं को भी प्रभावित करने में मदद मिलेगी।

दोनों पति पत्नी को राजपूतों से भी काफी मदद मिल रही है । स्वाति सिंह के आने से यह वर्ग भी करीब आएगा। अबतक राजपूत सपा के ही करीब रहे हैं। पार्टी सूत्रों की माने तो स्वाति सिंह को महिला इकाई में बड़ी जिम्मेदारी देने की तैयारी है। बीजेपी जल्द ही इस की घोषणा करेगी। बीजेपी का उद्देश्य है कि स्वाति सिंह को सामने रख कर क्षत्रिय वोट बैंक को साधा जाये। यूपी में करीब 9 प्रतिशत वोटर क्षत्रिय है। हलाकि इस बारे में बोलने को कोई भी भाजपा नेता तैयार नहीं। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या ने पूछने पर कहा इसपर कुछ कहना ठीक नहीं।

TOPPOPULARRECENT