Wednesday , October 18 2017
Home / Crime / इस्मत बचाने चलती ट्रेन से ख़ातून कूद पड़ी

इस्मत बचाने चलती ट्रेन से ख़ातून कूद पड़ी

आरा बक्सर( बिहार), 04 जनवरी (पी टी आई) अपनी जान बचाने के लिए एक ख़ातून तेज़ रफ़्तार ट्रेन से कूद पड़ी जिसकी वजह से इसके हाथ और पैर टूट गए और सर पर शदीद ज़ख्म आए। उसकी हालत नाज़ुक बताई गई है। ट्रेन में सवार फ़ौजी जवानों ने इससे दस्त दराज़ी की कोश

आरा बक्सर( बिहार), 04 जनवरी (पी टी आई) अपनी जान बचाने के लिए एक ख़ातून तेज़ रफ़्तार ट्रेन से कूद पड़ी जिसकी वजह से इसके हाथ और पैर टूट गए और सर पर शदीद ज़ख्म आए। उसकी हालत नाज़ुक बताई गई है। ट्रेन में सवार फ़ौजी जवानों ने इससे दस्त दराज़ी की कोशिश की थी।

बिहार के ज़िला भोजपुर में आरा जंक्शन के क़रीब ये वाक़िया पेश आया। भोजपुर ज़िला मजिस्ट्रेट प्रतीमा एस वर्मा ने कहा कि ये ख़ातून मग़रिबी बंगाल में दार्जिलिंग से ताल्लुक़ रखती है। कम्पार्टमेंट में फ़ौजी जवानों की जानिब से छेड़खानी और उसकी इस्मतरेज़ि करने की कोशिश के दौरान वो यूपी। दबरोगढ़। दिल्ली ब्रह्मपुत्रा एक्सप्रेस से छलांग लगा दी।

30 साला ख़ातून को आरा के सदर हॉस्पिटल में शरीक किया गया है। दस्त दराज़ी करने वाले एक फ़ौजी की जवान रमेश कुमार की हैसियत से शनाख़्त की गई है जो हिमाचल प्रदेश से ताल्लुक़ रखता है। इस जवान को आसाम राइफल्स के ए डी उपाध्या ने ट्रेन के बाथरूम से गिरफ़्तार किया जहां वो छुप गया था।

इसे रेलवे प्रोटेक्शन फ़ोर्स के हवाले कर दिया गया। इन्सपेक्टर जनरल पुलिस (रेल) विनय कुमार ने कहा कि दस्त दराज़ी में मुलव्वस एक और जवान को तलाश किया जा रहा है। दूसरा जवान ट्रेन की दूसरी बोगी में फ़रार हो गया। मुतास्सिरा ख़ातून B-1 कोच में सफ़र कर रही थी।

उसकी टिकट कन्फर्म नहीं थी, इसलिए वो टी टी की सीट पर बैठी थी। आई जी ने बताया कि जब ट्रेन मिर्ज़ापुर (उत्तर प्रदेश) पहुंची तो टी टी और दीगर मुसाफ़िरो ने इस वाक़िया से मुताल्लिक़ पूछगिछ की। इब्तिदाई तहक़ीक़ात के मुताबिक़ मुतास्सिरा ख़ातून के शौहर दार्जिलिंग में टेलर हैं। एफ़ आई आर दर्ज किया गया है। ज़ख़मी ख़ातून को ईलाज के लिए आरा जंक्शन लाया गया है।

TOPPOPULARRECENT