Saturday , June 24 2017
Home / India / इस देश का पैसा किसी मजहब के फ़ेस्टिवल में इस्तेमाल नहीं होना चाहिए- ओवैसी

इस देश का पैसा किसी मजहब के फ़ेस्टिवल में इस्तेमाल नहीं होना चाहिए- ओवैसी

फोटो: इंडिया टुडे

नई दिल्ली: हज सब्सिडी के मुद्दे पर आज़तक  में चर्चा करते हुए एमआईएम के अध्यक्ष एवम् हैदराबाद से सांसद असादुद्दीन ओवैसी ने सब्सिडी पर प्रतिबंध लगानेऔर उसकी जगह बच्चों के लिए स्कुल खोलने की मांग की।

ओवैसी ने कहा की मुस्लिम इलाकों में स्कूलों की बहुत कमी है सब्सिडी पर पैसा खर्च ना कर के आप स्कुल खुलवाईए, स्कुल रहेंगे तो सब लोग अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा दे पायँगे।

आगे उन्होंने कहा की देश का पैसा किसी भी धर्म फ़ेस्टिवल में बर्बाद नहीं होना चाहिए। ये बन्द होना चाहिए इसी की वजह से तो भ्र्ष्टाचार है।

आज़ादी के बाद से लगातार मुसलमानों को हज सब्सिडी दी जा रही है। जवाहरलाल नेहरू के समय 1959 में हज एक्ट के तहत सब्सिडी को ज़ारी रखा गया। लेकिन इसके बाद से कई लोगो द्वारा इस सब्सिडी को खत्म करने की मांग की जाती रही है.

यहां तक की 2012 में सुप्रीम कोर्ट ने भी अपने फैसले में कहा था की दस साल के अंदर हज सब्सिडी खत्म कर दी जायेगी।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT