Tuesday , October 24 2017
Home / Hyderabad News / ईदगाहें और मसाजिद में 12% तहफ़्फुज़ात की तहरीक में हिस्सा लेने मुस्लमानों से अपील

ईदगाहें और मसाजिद में 12% तहफ़्फुज़ात की तहरीक में हिस्सा लेने मुस्लमानों से अपील

हैदराबाद 27 सितंबर : ईद उल अज़हा के मौके पर 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात से मुतालिक पैम्फलेटस शहर और अज़ला में बड़े पैमाने पर तक़सीम हुए।

बोदहन की ईदगाह में बाद नमाज़ ईद उल अज़हा मुस्लमानों को 12 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात का मुतालबा करते हुए दुआ से पहले उल्लाहु अकबर की गूंज में क़रार दाद मंज़ूर की गई। मुख़तलिफ़ मुक़ामात पर इमाम ओ- ख़तीब हज़रात भी अपनी ज़िम्मेदारी दारी को महसूस करते हुए ख़ुतबा ईद ओ- ख़ुतबा जुमा में 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात की तहरीक और जद्दोजहद को कामयाब बनाने की अपील की।

रोज़नामा सियासत की तरफ से मुस्लमानों को 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने की तहरीक से मुस्लमानों में शऊर बेदार हुआ है । शहर और अज़ला में तहसीलदारें , आर डी ऊज़ और कलेक्टरस के अलावा वुज़रा और अवामी मुंतख़ब नमाइनदों को जमहूरी अंदाज़ में पेश की जाने वाली याददाश्तीं इस का सबूत हैं।

ज़ाहिद अली खअं ने 12 फ़ीसद तहफ़्फुज़ात के लिए मुस्लमानों के जज़्बा और जोश ओ- ख़रोश की सताइश करते हुए इस तहरीक को परवान चड़ाने पर ज़ोर दिया। एडीटर रोज़नामा सियासत ने कहा कि जबतक् हुकूमत बी सी कमीशन तशकील देते हुए जामि सर्वे के ज़रीये मुस्लमानों की पसमांदगी का आदाद ओ- शुमार जमा नहीं करती तब तक मुस्लमानों को तहफ़्फुज़ात फ़राहम करना मुमकिन नहीं है।

ज़ाहिद अली खअं ने उम्मीद ज़ाहिर की हैके शहर और अज़ला में पैम्फलेटस की जो तक़सीम हुई है इस का मुसबित रद्दअमल देखने को मिले गा। ईद के बाद अब 12 फ़ीसद याददाश्तें की पेशकशी में मज़ीद इज़ाफ़ा होगा।

TOPPOPULARRECENT