Saturday , September 23 2017
Home / Crime / “ईदूल अज़हा” के मौक़े पर IS ने क़ुर्बानी के जानवरों की तरह 19 सीरियाई लोगों को ज़बह कर डाला

“ईदूल अज़हा” के मौक़े पर IS ने क़ुर्बानी के जानवरों की तरह 19 सीरियाई लोगों को ज़बह कर डाला

दमिश्क़: सीरिया में सक्रिय आतंकवादी संगठन ‘आईएस ने बंधक बनाए गए 19 सीरियाई नागरिकों को बहुत बेरहमी के साथ क़ुर्बानी के जानवरों की तरह उल्टे लटका कर मार दिए और नरसंहार का वीडियो बनाकर इंटरनेट पर पोस्ट की है ताकि विरोधियों को डराया जा सके।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

मिडिया ने आईएस द्वारा जारी फुटेज के दृश्यों को दिखाने से परहेज किया है लेकिन इस भयानक घटना की जानकारी विस्तार से बताया है।
मीडिया रिपोर्टों के अनुसार ईदुज़्ज़ोहा के पहले दिन सिरिया में आईएस लड़ाकों ने कैदियों के लाल कपड़े पहने 19 बंधकों को एक इमारत में पहुंचाया जहां उन्हें क़ुर्बानी के जानवरों की तरह उल्टा लटकाया गया। बाद में सफेद कपड़ों में आईएस के कसाबों ने उन्नीस लोगों को जबह कर डाला।
आतंकवादियों द्वारा जारी बयान में दावा किया गया है कि ईद के दिन जबह किए गए सीरियाई अमरीका और अपने प्रतिद्वंद्वी समूहों के लिए जासूसी करते रहे हैं।
बंधकों को जबह करने से पहले एक आतंकवादी ने चीख कर कहा कि ‘तुम भी क़ुर्बानी दो अल्लाह क़ुरबानी स्वीकार करे, हम सुलेबियों के एजेंटों की क़ुर्बानी दे रहे हैं।’ इसके बाद योद्धा एक दुसरे छत के साथ सिर के बल लटकाए गए लोगों को एक एक करके मारते और उन के कटे हुए गलों में पानी डालते गए।
गौरतलब है कि आईएस से विरोधियों को बहुत बेरहमी के साथ मौत के घाट उतारे जाने का सिलसिला नया नहीं है। जासूसी और अन्य आरोपों के तहत आईएस आतंकवादी विरोधियों को भयानक सजायें देने में दुनिया भर में प्रसिद्ध हैं। आईएस के इस हथकंडे का उद्देश्य विरोधियों पर अपना खौफ़ तारी करना है।
is2is3is4

TOPPOPULARRECENT