Tuesday , October 17 2017
Home / World / ईरान पर हमले की हेमाक़त , इसराईल का ख़ातमा : नॉर्मन पाइश

ईरान पर हमले की हेमाक़त , इसराईल का ख़ातमा : नॉर्मन पाइश

तहरान 24 दिसमबर (एजैंसीज़) जर्मनी के एक साबिक़ रुकन पार्लीमैंट नॉर्मन पाइश नेख़बरदार किया है के ईरान पर फ़ौजी हमला करने केलिए इसराईल की जानिब से की जाने वाली कोई भी हमाक़त दरहक़ीक़त इस यहूदी ममलकत के ख़ातमा का सबब बनेगी। मिस्टर न

तहरान 24 दिसमबर (एजैंसीज़) जर्मनी के एक साबिक़ रुकन पार्लीमैंट नॉर्मन पाइश नेख़बरदार किया है के ईरान पर फ़ौजी हमला करने केलिए इसराईल की जानिब से की जाने वाली कोई भी हमाक़त दरहक़ीक़त इस यहूदी ममलकत के ख़ातमा का सबब बनेगी। मिस्टर नॉर्मन पाइश ने जर्मन रोज़नामा जंग वीलत में लिखा है के ईरान के साथ जंग करना ग़ज़ापट्टी में लड़ते रहने से बहुत मुख़्तलिफ़ और जुदागाना है ।

इस का मतलब ये है के ईरान पर हमला सैहुनी इसराईली ममलकत के ख़ातमा के मुतरादिफ़ होगा। उन्हों ने कहा कि अमरीकी जासूस इदारा सी आई ए ने ख़ुद ये पेश क़ियासी की है के अगर इसराईल मशरिक़वुसता में जंग-ओ-जदाल की अहमक़ाना पालिसीयों पर अमल पैरा रहेगा तो आइन्दा 20 बरसों के दौरान वो (इसराईल) तबाह होजाएगा। अमरीकी वज़ीर-ए-दिफ़ाअ लीवन पेनेटा के इस हालिया ब्यान का हवाला देते हुए कि इसराईल सारे मशरिक़ वुसता में तेज़ी के साथ यक्का-ओ-तन्हा होता जा रहा है ।

मिस्टर पाइश ने कहा कि इसराईल के तईं ख़ुद अमरीका भी इस वक़्त अजीब मख़मसा का शिकार है । जर्मन मुफ़क्किर ने मज़ीद कहा कि अमरीका एक तरफ़ इसराईली हुकूमत को बचाना चाहता है , हालाँकि इसराईल एक नाकाम ममलकतमें तबदील होने की अलामतें ज़ाहिर कररहा है तो दूसरी तरफ़ वो ईरानी हुकूमत का ख़ातमा करना चाहता है अगरचे वाशिंगटन की सख़्त तरीन पाबंदीयों के बावजूद तहरान एक अहमताक़त की तौर पर उभर रहा है । मिस्टर पाइश ने कहाकि अमरीकी और योरोपी हुकूमतों को ईरान से मुसालहत से कोई दिलचस्पी नहीं है वो सिर्फ़ हुकूमत तबदील करना चाहते हैं।

TOPPOPULARRECENT