Tuesday , April 25 2017
Home / International / ईसाइयों के सबसे बड़े चर्च वैटिकन ने कहा, ट्रंप का आदेश अमानवीय है

ईसाइयों के सबसे बड़े चर्च वैटिकन ने कहा, ट्रंप का आदेश अमानवीय है

ईसाईयों के सबसे बड़े धार्मिक स्थल वैटिकन चर्च ने मुस्लिमों पर अमरीकी राष्ट्रपति के हालिया प्रतिबंध को अमानवीय बताया है। वैटिकन ने कहा है कि सात मुस्लिम बहुल देशों के लोगों को अमेरिका की यात्रा पर डोनाल्ड ट्रंप सरकार का प्रतिबंध एक अमानवीय कृत्य है।

वैटिकन के एक अधिकारी और धर्मगुरू फादर ऐंजेलो ने कहा है कि ट्रंप का आदेश किसी भी स्थिति में स्वीकार्य नहीं है। उन्होंने वैटिकन ने मैक्सिको की सीमा पर दीवार बनाने के ट्रंप के फैसले की भी कड़ी आलोचना की है।

दूसरी तरफ ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने कहा है कि सात मुस्लिम बहुल देशों के लोगों के अमेरिका की यात्रा करने पर डोनाल्ड ट्रंप का प्रतिबंध विभाजनकारी और गलत है। टेरीजा ने ब्रिटिश संसद में कहा, “अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप ने जो नीति पेश की है उसको लेकर हमारी सरकार का रुख स्पष्ट है कि यह नीति गलत है।” उन्होंने कहा कि हमारा मानना है कि ट्रंप का यह फैसला विभाजनकारी और गलत है।

गौरतलब है कि अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने एक कार्यकारी आदेश के जरिए सभी शरणार्थियों के अमरीका आने पर रोक लगा दी है। इसके अलावा उन्होंने सात मुस्लिम बहुल देशों ईरान, इराक़, लीबिया, सोमालिया, सूडान, सीरिया और यमन के लोगों के अमेरिका में दाखिल होने पर रोक पर 90 दिनों तक रोक लगा दी है। हालांकि एक अमरीकी अदालत ने शरणार्थियों को हिरासत में लिए जाने पर रोक लगा दिया है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT