Thursday , October 19 2017
Home / India / ईसाई लफ़्ज़ ख़ुदा के बजाय अल्लाह इस्तेमाल करने के ख़ाहां

ईसाई लफ़्ज़ ख़ुदा के बजाय अल्लाह इस्तेमाल करने के ख़ाहां

मलेशिया में ईसाईयों की जानिब से अपनी मुक़द्दस किताब इंजील में ख़ुदा के लिए लफ़्ज़ अल्लाह का इस्तेमाल करने से मुताल्लिक़ बाअज़ ईसाई ग्रुपों के हक़ के दावे का जवाब देते हुए तवाँ मान ने इस मसले को दुबारा भड़का दिया है। इस्लाम पसंद सयासी ज

मलेशिया में ईसाईयों की जानिब से अपनी मुक़द्दस किताब इंजील में ख़ुदा के लिए लफ़्ज़ अल्लाह का इस्तेमाल करने से मुताल्लिक़ बाअज़ ईसाई ग्रुपों के हक़ के दावे का जवाब देते हुए तवाँ मान ने इस मसले को दुबारा भड़का दिया है। इस्लाम पसंद सयासी जमात ने कहा है कि सिर्फ़ इस्लाम और मुसलमानों को ही माबूद के लिए लफ़्ज़ अल्लाह इस्तेमाल करने का मख़सूस हक़ है।

उन्होंने कहा कि दीगर ग़ैर इस्लामी ग्रुप्स ख़ुदा के लिए मलेशियाई ज़बान का लफ़्ज़ तो हाँ इस्तेमाल कर सकते हैं। अज़ीम तर मलेशियाई पार्टी में शोबा इत्तिलाआत के सरबराह तवाँ इबराहीम मान ने कहा कि ईमान-ओ-अक़ीदा अल्लाह की शहादत एक नाज़ुक-ओ-हस्सास मुआमला है जिसको सही तनाज़ुर में देखा जाना चाहीए वरना मलेशिया जैसे कसीर मज़हबी मुआशरा में बेचैनी पैदा हो सकती है।

मिस्टर तवाँ मान ने कहा कि मग़रिबी ममालिक में इंजील या ईसाईयों की जानिब से ख़ुदा को अल्लाह नहीं कहा जाता लेकिन मलेशियाई मुस्लमानों ने इंजील में ख़ुदा के बजाय लफ़्ज़ अल्लाह इस्तेमाल करने के लिए इसरार किया है। ताहम 2007 में मलेशिया की मुस्लिम अक्सरीयती हुकूमत ने ऐसा करने पर इम्तिना आइद कर दिया था।

TOPPOPULARRECENT