Tuesday , October 24 2017
Home / Kashmir / उड़ी हमला मामले में 2 आरोपियों का पुलिस रिमांड

उड़ी हमला मामले में 2 आरोपियों का पुलिस रिमांड

Indian policemen chase Kashmiri Muslim protesters in Srinagar, Indian-controlled Kashmir, Wednesday, Aug. 10, 2016. Kashmir has been under a security lockdown and curfew since the killing of a popular rebel commander on July 8 sparked some of the largest protests against Indian rule in recent years. (AP Photo/Mukhtar Khan)

जम्मू: उत्तरी कश्मीर में 18 सितंबर को सैन्य शिविर पर हुए फिदायीन हमले जिसमें 18 सैनिक मारे गए थे, के मामले में जैश नामक आतंकवादी संगठन के दो उग्रवादियों को दस दिन के लिए रिमांड पर पुलिस की हिरासत में दे दिया गया है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) जम्मू-कश्मीर (जम्मू) के विशेष न्यायाधीश किशोर कुमार ने बुधवार को 20 वर्षीय फैसल हुसैन अवान निवासी जानधरा मुजफ्फराबाद (पाकिस्तान आयोजित कश्मीर) और 19 वर्षीय एहसान खुर्शीद निवासी खाली सुरद मुजफ्फराबाद दस दिन के लिए रिमांड पर पुलिस की हिरासत में दे दिया।

उन्हें एनआईए ने उड़ी हमले के सिलसिले में गिरफ्तार किया था। सूत्रों ने आज यहां बताया कि एसएसपी अतुल गोयल के नेतृत्व वाली एनआईए टीमों ने फैसल हुसैन अवान और एहसान खुर्शीद को अदालत के सामने पेश किया और यह कहते हुए उन्हें पुलिस रिमांड पर देने की मांग की कि वह कथित तौर पर उड़ी हमले में शामिल हैं। ‘ उन्होंने बताया कि अदालत ने मौजूदा मामले के तथ्यों और परिस्थितियों, जांच के चरण और मामले में अपराध की प्रकृति को मदनठररखते हुए एनआईए की मांग को सही माना और मलोतीन दस दिन के लिए रिमांड पर पुलिस की हिरासत में दे दिया।

अदालत ने निर्देश दिया था कि कानून के तहत शामिल कर्मियों के पहले चिकित्सा निरीक्षण किया जाना चाहिए। गौरतलब है कि 18 सितंबर को उत्तरी कश्मीर के उड़ी सेक्टर में सैन्य शिविर पर अब तक के सबसे बड़े फिदायीन हमले में 18 सैनिक मारे जबकि सभी चार फिदायीन हमलावर मारे गए थे। इस हमले के बाद से दोनों पड़ोसी देशों के बीच तनाव पाई जा रही है।

TOPPOPULARRECENT