Monday , August 21 2017
Home / India / उप्र चुनाव में बीजेपी किसी को नहीं बनाएगी मुख्यमंत्री पद का उम्मीद्वार

उप्र चुनाव में बीजेपी किसी को नहीं बनाएगी मुख्यमंत्री पद का उम्मीद्वार

लखनऊ : भारतीय जनता पार्टी ने घोषणा की है कि वह उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों से पहले मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार  का ऐलान नहीं करेगी |

जनसत्ता की एक खबर के मुताबिक़ बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष  केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि चुनावों में  बीजेपी सीएम के चेहरे के साथ नहीं आएगी । जबकि समाजवादी पार्टी ने ऐलान किया है कि वह अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर ही आगे रखकर यूपी चुनाव लड़ेगी |  कांग्रेस ने शीला दीक्षित और बसपा ने सुश्री मायावती को मुख्यमंत्री  पद का उम्मीदवार  घोषित किया है। सपा के वरिष्ठ नेता किरणमय नंदा ने कहा, “मीडिया में कन्फ्यूजन है, पार्टी और आमलोगों में कोई कन्फ्यूजन नहीं है। एसपी जीतेगी और अखिलेश यादव फिर से मुख्यमंत्री बनेंगे।”

गौरतलब है कि तीन दिन पहले तीन (14 अक्टूबर को) ही समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने कहा था कि यह विधानमंडल दल की बैठक में तय होगा कि  2017 में मुख्यमंत्री कौन बनेगा | उन्होंने इस बात का संकेत दिया था कि सपा मुख्यमंत्री पद के लिए पहले से तय चेहरा बदल भी सकती है। मुलायम सिंह के छोटे भाई और पार्टी महासचिव रामगोपाल यादव ने अखिलेश का पक्ष लेते हुए चिट्ठी लिखकर मुलायम सिंह से फैसले पर पुनर्विचार करने की मांग की थी।

शिवपाल सिंह यादव ने रविवार को कहा था कि अगर चुनाव में समाजवादी पार्टी जीत जाती है तो अखिलेश यादव ही मुख्यमंत्री बनेंगे | दरअसल, यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बीच सत्ता और शक्ति की लड़ाई है | शिवपाल को मुलायम सिंह के काफी क़रीब माना जाता है |

कि कांग्रेस के वरिष्ठ  नेता रीता बहुगुणा जोशी पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल होने की कुछ खबरें आयीं मीडिया रिपोर्ट्स में आयीं थीं | हालांकि इस बारे में आधिकारिक रूप से दोनों पार्टी ने कुछ नहीं कहा है | रीता के भाई व भाजपा नेता विजय बहुगुणा ने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है ये सिर्फ़ अफवाह है |

 

TOPPOPULARRECENT