Thursday , October 19 2017
Home / Bihar News / उमेर के पटना पहुंचते ही दहशतगर्द अंडरग्राउंड

उमेर के पटना पहुंचते ही दहशतगर्द अंडरग्राउंड

सिमी के छत्तीसगढ़ चीफ उमेर सिद्दीकी और अजहरुद्दीन की निशानदेही पर पटना बम धमाके में शामिल फरार दहशतगर्दों को गिरफ्त में लेने एनआईए टीम के पटना पहुंचते ही दहशतगर्दों के अंडरग्राउंड होने की खबर है। कुछ दहशतगर्दों के बिहार से लगे

सिमी के छत्तीसगढ़ चीफ उमेर सिद्दीकी और अजहरुद्दीन की निशानदेही पर पटना बम धमाके में शामिल फरार दहशतगर्दों को गिरफ्त में लेने एनआईए टीम के पटना पहुंचते ही दहशतगर्दों के अंडरग्राउंड होने की खबर है। कुछ दहशतगर्दों के बिहार से लगे नेपाल सरहद में दाखिल करने की इत्तिला सामने आई है। एनआईए के ज़राये ने इसकी तसदीक़ की है, लेकिन इसकी तौसिह जानकारी देने से फिलहाल इंकार किया है।

पुलिस के जानकार ज़राए ने बताया कि पूछताछ में उमेर और अजहरूद्दीन ने बिहार के पटना, गया और हबीबगंज इलाके में अपने लोकल लिंक के नाम उगले हैं। इसकी बुनियाद पर एनआईए की टीम रायपुर अदालत की इजाजत से दोनों दहशतगर्दों को लेकर पटना गई है।
खबर है कि एनआईए की इत्तिला पर बिहार पुलिस ने करीब तीन मुश्तबा को हिरासत में लिया है, जिनसे बम धमाके के बारे में पूछताछ की जा रही है। पुलिस का कहना है कि उमेर के बिहार और झारखंड में सरगर्म इंडियन मुजाहिदीन के किन-किन दहशतगर्दों से लिंक जुड़े हैं और वहां से किस तरह की हिदायत मिल रहे थे, इसकी पूरी तस्दीक की जा रही है। वहीं बिहार के कुछ नक्सली लीडरों से भी सिमी कर्कुनान के रिश्तों के खुलासे ने एनआईए को चौकन्ना कर दिया है।

पाक तरबियत याफ़्ता दहशतगर्द ने बिहार को बनाया ठिकाना

पुलिस ज़राये के मुताबिक पाकिस्तान से तरबियत याफ़्ता दहशतगर्द विकास उर्फ जावेद उर्फ अहमद बिना वीजा, पासपोर्ट के झारखंड और बिहार के अलग-अलग शहरों में छिपकर रह रहा है। उमेर के जरिए इसकी जानकारी मिलने पर उसे पक़़डने की कवायद एनआईए ने तेज कर दी है। इसी दौरान झारखंड, बिहार समेत नेपाल के मुमकिना मुकामात में दबिश दी जा रही है। पुलिस हेड क्वार्टर के ज़राये ने बताया कि उमेर और अजहरुद्दीन से पूछताछ करने के लिए एक टीम जल्द ही पटना भेजी जा सकती है।

TOPPOPULARRECENT