Friday , October 20 2017
Home / District News / उर्दू असातिज़ा के तक़र्रुर, रोस्टर सिस्टम की बर्ख़ास्तगी ज़रूरी: मुहम्मद शहाबुद्दीन

उर्दू असातिज़ा के तक़र्रुर, रोस्टर सिस्टम की बर्ख़ास्तगी ज़रूरी: मुहम्मद शहाबुद्दीन

संगारेड्डी, 05 अप्रेल: रियासत आन्ध्रा प्रदेश में उर्दू मीडियम असातिज़ा की मख़लवा जायदादों पर तक़र्रुर की फ़ौरी ज़रूरत है। गुज़िश्ता साल दसवीं जमात में कई तलबा नाकाम होगए क्योंकि तक़रीबन हर उर्दू मीडियम स्कूल में मज़मून वारी असातिज़ा मौज

संगारेड्डी, 05 अप्रेल: रियासत आन्ध्रा प्रदेश में उर्दू मीडियम असातिज़ा की मख़लवा जायदादों पर तक़र्रुर की फ़ौरी ज़रूरत है। गुज़िश्ता साल दसवीं जमात में कई तलबा नाकाम होगए क्योंकि तक़रीबन हर उर्दू मीडियम स्कूल में मज़मून वारी असातिज़ा मौजूद नहीं। जनाब मुहम्मद शहाबुद्दीन साबिक़ रुकन बलदिया संगारेड्डी ने कहा कि डी एस सी साल 2012 के तहत 1325 उर्दू असातिज़ा जायदादों को पुर करने का ऐलान किया गया जबकि सिर्फ़ 753 जायदादों को ही पुर किया गया।

572 उर्दू मीडियम जायदादों को रोस्टर सिस्टम के तहत रोक दिया गया। उन्होंने कहा कि एस सी, एस टी और बी सी तबक़ात के अहले उम्मीदवार ना होने के बावजूद उर्दू असातिज़ा की मख़लवा जायदादों को रोस्टर सिस्टम की नज़र क्यों कर दिया जा रहा है। साबिक़ में रोस्टर सिस्टम को बर्ख़ास्त करते हुए उर्दू मीडियम की मख़लवा जायदादों पर तक़र्रुत अमल में लाए गए थे। ठीक इसी तरह 2012 डी एस सी अमल में लाने का मुतालिबा किया।

रियासती सतह पर उर्दू असातिज़ा की जायदादें अज़ला मेदक 54, हैदराबाद 124, निज़ामाबाद 31, रंगारेड्डी 10, करीमनगर 8, महबूबनगर 67, आदिलाबाद 15, कृष्णा 14, गोदावरी 10, नेल्लूर 8, कड़पा 68, चित्तूर 48, अनंतपुर 50 और ज़िला गुंटूर में 3 जायदादें मख़लवा हैं। उन्होंने रियासती हुकूमत से मुतालिबा किया कि वो उर्दू मीडियम स्कूल के मसाइल पर तवज्जो देते हुए मयारी तालीम की फ़राहमी को यक़ीनी बनाएं।

TOPPOPULARRECENT