Monday , October 23 2017
Home / World / उसामा को क़त्ल करने वाले अमरीकी कमांडो का नाम मंज़रे आम पर

उसामा को क़त्ल करने वाले अमरीकी कमांडो का नाम मंज़रे आम पर

अमरीकी ख़ुसूसी दस्ते नेवी सेल के साबिक़ रुक्न राबर्ट ओ नेइल ने बताया है कि वो वही शख़्स है जिस ने 2 मई 2011 को ऐबटाबाद ऑप्रेशन के दौरान उसामा बिन लादैन को सर में तीन गोलीयां मार कर हलाक कर दिया था।

अमरीकी ख़ुसूसी दस्ते नेवी सेल के साबिक़ रुक्न राबर्ट ओ नेइल ने बताया है कि वो वही शख़्स है जिस ने 2 मई 2011 को ऐबटाबाद ऑप्रेशन के दौरान उसामा बिन लादैन को सर में तीन गोलीयां मार कर हलाक कर दिया था।

ये इत्तिला बर्तानवी अख़बार डेली मेल ने दी है। 38 साला ओ नेइल ने अमरीकी टी वी चैनल फ़ोकस को इंटरव्यू में बताया कि इस ने अपना नाम इस लिए मंज़रे आम पर लाने का फ़ैसला किया है क्योंकि उसे उन रिआयत से महरूम कर दिया गया है जो अमरीकी फ़ौजीयों को रिटायर होने के बाद फ़राहम की जाती हैं।

ओ नेइल ने 20 साल की बजाय 16 साल तक फ़ौजी मुलाज़मत की, इस लिए उसे उन रिआयात से महरूम कर दिया गया है। ओ नेइल का ताल्लुक़ रियासत मोंटाना के शहर बीवट से है, वो 19 साल की उम्र में कमांडोज़ के दस्ते में शामिल हो गए था, फ़ौजी मुलाज़मत के दौरान उस ने 400 से ज़्यादा ऑप्रेशन्स में हिस्सा लिया, और उसे 52 इनाम दिए गए थे।

TOPPOPULARRECENT