Tuesday , October 24 2017
Home / Bihar/Jharkhand / एंगल से मार कर की भाभी की हत्या

एंगल से मार कर की भाभी की हत्या

रांची : रूबी देवी के भाई विक्की कुमार ने सुखदेवनगर थाना में देवर काली शंकर, उसकी बीवी आरती देवी, पति दुर्गा शंकर, ननद रूबी देवी, प्रियंका देवी व नंदोसी संजय कुमार और ओम गुप्ता, जेठ सचिन और आशिष के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी है़ पुलिस ने मृतका के शौहर दुर्गा शंकर को भी गिरफ्तार कर लिया है, उससे पूछताछ की जा रही है़.

क्या है मामला : रूबी के भाई विक्की कुमार ने बताया कि देवर काली शंकर उसकी बहन रूबी देवी से छोटी-छोटी बात को लेकर झगड़ा करता रहता था़ कुछ दिन से रसोई घर में एक टेबल रखा हुआ था़ उस टेबल को अपने-अपने कमरे में रखने को लेकर सनीचर से तनाजा हो रहा था़ सनीचर को भी देवर-भाभी में झगड़ा हुआ था़ इतवार की सुबह तनाजा काफी बढ़ गया और नौबत मारपीट तक आ गयी़ पहले कमरे में मारपीट हुई़ उसके बाद काली शंकर, रूबी देवी को मारते-मारते घर के बाहर ले आया और आंगन में रखा एंगल उठा कर उस पर कई बार वार किया़ जब वह गिर गयी, तो सिर पर वार किया़ जिससे खातून के सिर के बांये हिस्से में संगीन चोट लगी़ इस हमले में उसका सिर बुरी तरह नुकसान हो गया और आंख बाहर निकल आयी. परिणामत: खातून ने जाए हादसा पर ही दम तोड़ दिया़ खातून के मरते ही देवर काली शंकर एंगल को वहीं छोड़ सुखदेवनगर थाना आ गया़ उसने पुलिस को बताया कि उसने भाभी रूबी देवी की हत्या कर दी है़ पुलिस उसे लेकर जाए हादसा पर गयी और मामले की छानबीन शुरू की.

इत्तिला मिलते ही सुखदेवनगर थाना इंचार्ज नवल किशोर सिंह, दारोगा डीडी चौधरी, जमादार मिश्रा जी भी जाए हादसा पर पहुंचे़. हत्या में इस्तेमाल एंगल जब्त कर लाश को कब्जे में किया़. पंचनामा कर लाश को पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेजा़. बाद में जाए हादसा पर फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी(एफएसएल) की टीम पहुंची और फिंगर प्रिंट एवं ब्लड का सेंपल लिया़ पुलिस ने मुलजिम का कपड़ा भी जब्त किया है़
शौहर दुर्गा शंकर का कहना है कि जब झगड़ा हो रहा था, तो वह बेटी रिया व बेटे गोलू को चूना भट्टा वाके ससुराल पहुंचाने चला गया था़. इधर वाकिया की इत्तिला मिलते ही रूबी देवी के वालिद बुंदी साव, बहन गुलाबो देवी, भाई विक्की कुमार समेत मायके के कई लोग जाए हादसा पहुंचे़ उन्होंने इल्जाम लगाया कि रामगढ़ से होली में रांची आयी खातून की ननद रूबी देवी और नंदोसी संजय कुमार देवर को हमेशा उकसाते रहते थे. कई बार मामला थाना पहुंचा था और पंचायत भी बैठी थी.

TOPPOPULARRECENT