Saturday , October 21 2017
Home / Jharkhand News / एक क्लिक पर झारखंड की ई-लाइब्रेरी में पढ़ें 4 लाख किताबें

एक क्लिक पर झारखंड की ई-लाइब्रेरी में पढ़ें 4 लाख किताबें

रांची : आईटी जमाने के इस दौर में झारखंड का ई-लाइब्रेरी (elibrary.jharkhand.gov.in ) अपना अहम मुकाम बनाने की तरफ तेजी से गामज़ीन है। मुल्क में किसी रियासती हुकूमत का यह पहला ई-लाइब्रेरी है जहां चार लाख 31 हजार से ज़्यादा किताबें ई-फॉरमेट में मौजूद है। एक क्लिक पर उसे पढ़ा जा सकता है।

झारखंड हुकूमत के मुखतलिफ़ महकमाओं की तरफ से जारी होनेवाले हुक्म, नोटिफिकेशन, लेटर, सर्कुलर, गजट और रुल्स जैसे कायदे-कानून से मुतल्लिक़ लेटर व किताबें इस साइट पर मौजूद हो रही हैं। इसके अलावा रोजाना रियासती और क़ौमी मीडिया में आनेवाली खबरों की क्लिपिंग्स, वीडियो और फोटो भी दस्तयाब कराया जा रहा है।

मेल के जरिये भी झारखंड हुकूमत के अफसरो और वज़ीरों को उनसे मुतल्लिक़ मीडिया में खबरों की जानकारी सुबह-सुबह दस्तयाब करा दी जा रही है। उनके नोटिस में लाया जा रहा है कि उनके महकमा और इलाक़े से मुतल्लिक़ ये खबरें मीडिया में आई है, जिस पर वह एक्शन ले सकते हैं। रियासत के आईटी और पीआरओ महकमा के हिदायत में यह काम लोटस कम्युनिकेशन कर रहा है।

झारखंड हुकूमत ने लोटस कम्युनिकेशन के साथ एक जुलाई 2013 को एमओयू किया था। उसमें झारखंड हुकूमत के ज़ाती महकमा दस्तावेजों को ई-फॉरमेट में दस्तयाब कराने की जिम्मेदारी दी गई है। इसका असल मक़सद भी यह है कि सरकार के सतह पर लिए जानेवाले फैसलों के दौराम किसी वैसे साबिक़ हुक्म को ढूंढने में वक़्त जाया नहीं हो, जो उससे मुतल्लिक़ है। कंपनी को यह काम 30 जून 2016 तक पूरा करना है। बहरहाल फाइनेंस, सेहत, दाखिला, मैन पावर, ज़िराअत, को-ओपरेटिव समेत आठ महकमा के ज़्यादातर दस्तावेजों को ई-लाइब्रेरी में डाला जा चुका है।

 

TOPPOPULARRECENT