Wednesday , August 16 2017
Home / Delhi News / एक दंगा होने पर मोदी मुसलमानों के दुश्मन, 457 दंगो के बाद भी मुलायम मसीहा: मौलाना आमिर रशादी

एक दंगा होने पर मोदी मुसलमानों के दुश्मन, 457 दंगो के बाद भी मुलायम मसीहा: मौलाना आमिर रशादी

नई दिल्ली। राष्ट्रीय उलेमा कॉउंसिल के चेयरमैन मौलाना आमिर रशादी ने उत्तर प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधा। सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह और राज्य के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए रशादी ने कहा, ‘दोनों सिर्फ मुस्लिमों को अपना वोट बैंक समझते हैं।’  आमिर रशादी ने कहा कि गुजरात में एक दंगा कराने के बाद मोदी मुसलमानों के दुश्मन बन गए। मुलायम और उनके पुत्र (अखिलेश) के राज में 457 बड़े दंगे हुए फिर भी दोनों मुस्लिमों के मसीहा बने हुए हैं।

एक हिंदी न्यूज़ पोर्टल के अनुसार  उन्होंने कहा कि अब हिंदू-मुस्लिम एकता का नारा नहीं, मुस्लिम-हिंदू एकता का नारा चलेगा। रशादी ने कहा कि अगर मुसलमान, ब्राह्मण, भूमिहार और राजपूत एक हो जाए तो उसे कोई नहीं हरा सकता। यह ऐसा वोट बैंक होगा जो यादवों पर बेहद भारी पड़ेगा।

उन्होंने राजनीतिक पार्टियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि इन लोगों ने धर्मनिरपेक्षता और सांप्रदायिकता के नाम पर सिर्फ ठेंगा दिया है। कुछ लोग बीजेपी का डर दिखाकर मुसलमानों को वोट बैंक की तरह इस्तेमाल करते रहे हैं।   रशादी ने आरोप लगाया कि वे मुसलमानों के सच्चे हमदर्द नहीं है। वे सिर्फ उनका इस्तेमाल राजनीतिक रोटियां सेकने के लिए करते हैं। रशादी ने कहा कि अब ऐसा नहीं होगा। अब मुसलमान इनका वोट बैंक नहीं बनेगा। उन्होंने नारा देते हुए कहा कि अब मुसलमान नहीं रहेगा दरबार में, वह अब सरकार में रहेगा ।

TOPPOPULARRECENT