Saturday , May 27 2017
Home / Sports / एक ही गेंद पर बोल्ड, नो बॉल और चौका

एक ही गेंद पर बोल्ड, नो बॉल और चौका

पुणे : भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें यहां बॉर्डर-गावसकर ट्रोफी का पहला टेस्ट मैच खेल रही हैं। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की टीम ने संभलकर शुरुआत की। कंगारू टीम ने पहले 15 ओवर में 40 रन जोड़ लिए। इस बीच 15वें ओवर में कुछ अनूठा घटा। जयंत यादव मैच का 15वां ओवर फेंक रहे थे। इस बीच जयंत यादव की एक गेंद डेविड वॉर्नर को छकाते हुए बोल्ड कर गई। वॉर्नर निराश हुए ही थे और जयंत यादव समेत टीम इंडिया दिन के पहले विकेट का जश्न मनाने को उछली ही थी कि अंपायर ने बताया कि वह नो बॉल है।

अंपायर का नो बॉल का इशारा देश वॉर्नर की जान में जान आई और टीम इंडिया हैरान रह गई। हालांकि टीवी रीप्ले से यह साफ हो गया कि जयंत यादव ने इस गेंद पर काफी बड़ी गलती कर दी है। उनका पैर क्रीज से काफी ज्यादा बाहर था। आमतौर पर स्पिन गेंदबाज इतनी बड़ी नो बॉल नहीं फेंकते। क्रीज से उनके पैर का पिछला हिस्सा करीब 6 से 8 इंच दूर था। इस बीच नो बॉल सुन वॉर्नर वापस उत्साह में आए और वह तो रन के लिए दौड़ पड़े, लेकिन इससे पहले भारतीय फिल्डर कुछ समझ पाते गेंद सीमा रेखा को पार कर गई। इससे ऑस्ट्रेलियाई टीम को बाई के 4 रन और मिल गए। युवा जयंत की इस गलती का नुकसान यह हुआ कि धाकड़ बल्लेबाज वॉर्नर आउट भी नहीं हुए और कंगारू टीम को अतिरिक्त 4 रन भी मिल गए।

बता दें कि पुणे में पहली बार टेस्ट मैच आयोजित हो रहा है और इस तरह से पुणे का मैदान भारत का 25वां टेस्ट वेन्यू बन गया है। इसके अलावा 4 टेस्ट मैचों की इस सीरीज में ये दोनों टीमें रांची और धर्मशाला में भी पहली बार टेस्ट मैच की शुरुआत करेंगी यानी इन दोनों मैदानों पर भी अब तक कोई टेस्ट मैच आयोजित नहीं हुआ है। इस सीरीज के बाद रांची 26वां और धर्मशाला भारत का 27वां टेस्ट वेन्यू बनेगा।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT