Friday , October 20 2017
Home / India / एफ डी आई मसले पर अपोज़ीशन में इख्तेलाफ़ात, हुकूमत को राहत

एफ डी आई मसले पर अपोज़ीशन में इख्तेलाफ़ात, हुकूमत को राहत

नई दिल्ली, २७ नवंबर (पीटीआई ) रीटेल शोबा में एफडी आई की इजाज़त के मसला पर ऐवान पार्लीमेंट में इख्तेयार की जाने वाली हिक्मत-ए-अमली के बारे में अपोज़ीशन पार्टीयों में इख्तेलाफ़ात पैदा हो जाने की वजह से हुकूमत ने आज इत्मीनान की सांस ली ।

नई दिल्ली, २७ नवंबर (पीटीआई ) रीटेल शोबा में एफडी आई की इजाज़त के मसला पर ऐवान पार्लीमेंट में इख्तेयार की जाने वाली हिक्मत-ए-अमली के बारे में अपोज़ीशन पार्टीयों में इख्तेलाफ़ात पैदा हो जाने की वजह से हुकूमत ने आज इत्मीनान की सांस ली ।

कुल जमाती इजलास इस मसला पर इत्तिफ़ाक़ राय पैदा करने नाकाम हो गया कि इस मसला पर ऐसे क़ायदा के तहत मुबाहिस करवाईं जाए या नहीं जिसके नतीजा में राय दही का लज़ूम आइद होता है । समाजवादी पार्टी ,बहुजन समाज पार्टी की ताईद और तृणमूल कांग्रेस की सर्द मोहरी की वजह से यू पी ए क़ाइदीन का कल एक इजलास तलब किया गया है ताकि हुकूमत की हिक्मत-ए-अमली को मुस्तहकम किया जाए ।

डी एम के जिसने रीटेल शोबा में एफडी आई की मुख़ालिफ़त की थी इस मसला पर यू पी ए का एक इजलास मुनाक़िद करने का मुतालिबा किया था । कुल जमाती इजलास में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने रीटेल शोबा में एफडी आई की मुख़ालिफ़त की ताहम बाएं बाज़ू ने फ़ैसला किया कि पार्लीमेंट के दोनों ऐवानों में सदर नशीन की जानिब से तहरीक की सूरत में राय दही की जाएगी ।

तृणमूल कांग्रेस ने अपने तौर पर बाक़ी अपोज़ीशन के साथ सर्द मोहरी का रवैय्या इख्तेयार किया क्योंकि गुज़शता हफ़्ता पूरे अपोज़ीशन में तृणमूल कांग्रेस की तहरीक ए अदम एतिमाद पर उसकी ताईद नहीं की थी । क़ाइद अपोज़ीशन लोक सभा सुषमा स्वाराज ने ऐलान किया कि क़ायदा 184 के तहत मुबाहिस और राय दही के सिलसिला में कोई समझौता नहीं किया जाएगा ।

हुकूमत ने कहा कि वो राय दही के बगै़र मुबाहिस के लिए तैयार हैं क्योंकि माज़ी में ऐसी कोई मिसाल नहीं मिलती । यू पी ए की हलीफ़ डी एम के ने अपने मौक़िफ़ को इस मसला पर पोशीदा रखा है । अपोज़ीशन पार्टीयां एन डी ए ,अना डी एम के ,बी जे डी ,बाएं बाज़ू की पार्टीयां ,तेलगुदेशम और जनता दल (एस ) ऐसे क़वाइद के तहत मुबाहिस का मुतालिबा कर रहे हैं जिनके नतीजा में राय दही का लज़ूम आइद होता है ।

बी एस पी ने वाज़िह कर दिया है कि वो किसी भी क़ायदा के तहत मुबाहिस की मुख़ालिफ़ नहीं है । बी जे डी पहले ही क़ायदा 184 के तहत मुबाहिस की नोटिस दे चुकी है । आर जे डी के सदर लालू प्रसाद ने कहा कि ये तमाम शोर-ओ-गुल इसीलिए किया जा रहा है क्योंकि इंतेख़ाबात क़रीब हैं ।

अना डी एम के ने राय दही पर इसरार किया है जबकि मर्कज़ी वज़ीर फायनेंस पी चिदम़्बरम और वज़ीर-ए-सनअत आनंद शर्मा ने मुश्किल मआशी हालात का हवाला देते हुए हुकूमत की जानिब से फ़ैसले को दुरुस्त क़रार दिया ।

बी जे पी ने आज हुकूमत पर मुबाहिस के बाद राय दही से इत्तिफ़ाक़ ना करने पर मुझ पर तन्क़ीद की । कांग्रेस और उसकी हलीफ़ पार्टीयों पर इल्ज़ाम आइद किया कि वो पार्लीमेंट की कार्रवाई में रुकावट पैदा कर रहे हैं और चाहते हैं कि कार्रवाई चलने ना दी जाए । कांग्रेस के तर्जुमान संदीप दिक्षित ने रीटेल शोबा में एफडी आई पर राय दही के बगै़र मुबाहिस करने का अटल मौक़िफ़ ज़ाहिर करते हुए कहा कि बेशतर सयासी पार्टीयां इस मसला पर स्पीकर लोक सभा मीरा कुमार के फ़ैसले से इत्तिफ़ाक़ करने इमादा हैं ।

बाएं बाज़ू के मौक़िफ़ का इस मसला पर इज़हार करते हुए सी पी आई एम की पोलीट ब्यूरो रुकन बृंदा करत ने कहा कि कसीर ब्रांड रीटेल शोबा में रास्त ग़ैर मुल्की सरमायाकारी की इजाज़त देने का हुकूमत के फ़ैसले के ख़िलाफ़ मुल्क गीर सतह पर एहतिजाज में शिद्दत पैदा की जाएगी ।

वो रियास्ती कनवेनशन से बैंगलोर में ख़िताब कर रही थीं । जिसका एहतिमाम सी पी आई ,सी पी आई कट और फ़ारवर्ड ब्लाक ने किया था । उन्होंने कहा कि इस मसला पर मुल्क गीर सतह पर अक्सरीयत इस बात पर मुत्तफ़िक़ हैं कि इसके ख़िलाफ़ सख़्त एहतिजाज किया जाएगा ।

उन्होंने कहा कि बाएं बाज़ू की पार्टीयां एफडी आई के ख़िलाफ़ अपने एहतिजाज में शिद्दत पैदा करेंगी ।

TOPPOPULARRECENT