Thursday , October 19 2017
Home / Khaas Khabar / एमपी हूं, फिर भी घर के बाहर डरती हूं: जयाप्रदा

एमपी हूं, फिर भी घर के बाहर डरती हूं: जयाप्रदा

गोरखपुर, 13 मार्च: रामपुर की एमपी और अदाकारा जया प्रदा ने कहा कि अगर लड़कियों की सेक्युरिटी को लेकर हुकूमत ने शख्त कदम नहीं उठाए तो वह दिन दूर नहीं जब लड़कों की शादी के लिए भी लड़कियां नहीं मिलेंगी। कहा कि बेटियों के साथ रेप जैसा वाकि

गोरखपुर, 13 मार्च: रामपुर की एमपी और अदाकारा जया प्रदा ने कहा कि अगर लड़कियों की सेक्युरिटी को लेकर हुकूमत ने शख्त कदम नहीं उठाए तो वह दिन दूर नहीं जब लड़कों की शादी के लिए भी लड़कियां नहीं मिलेंगी। कहा कि बेटियों के साथ रेप जैसा वाकिया दुनिया का कोई भी बाप बर्दाश्त नहीं कर सकता।

इस तरह के खौफनाक वाकियात का सामना करने और अपनी बिटिया को सेक्युरिटी नहीं दे पाने की हालत से बचने के लिए कोई बाप हर कदम उठाने को तैयार हो सकता है, भले इसके लिए बेटियों की पैदाइश न होने देने का ही फैसला क्यों न लेना पड़े । ख़्वातीन की सेक्युरिटी को लेकर मुल्क के मौजूदा हालात कुछ ऐसी ही हालात को पैदा कर रहे हैं।

सफर के लिए टेंपो-बस में मौजूद हिफाज़ती इंतेज़ामात से लेकर पुलिस के सुलूक तक, सभी में सुधार की जरूरत है। उन्होंने कहा कि एक एमपी के तौर पर तमाम हिफाज़ती इंतेज़ाम मौजूद होने के बाद भी उन्हें भी घर से बाहर निकलते वक्त डर सताता है।

उन्होंने कहा कि अखिलेश हुकूमत के मुकाबले में मायावती की हुकूमत बहुत बेहतर थी।

मायावती हुकूमत में तो सिर्फ करपशन ही एक बड़ी मुसीबत थी लेकिन सपा हुकूमत में तो करप्शन और गुंडागर्दी दोनों है। इस हुकूमत में जब पुलिस के अफसर महफूज़ नही रहे तो आम आदमी का क्या होगा। उन्होंने कहा कि मुलायम सिंह के पास अमर सिंह जैसे खैरख़्वाह (Well-wisher) थे लेकिन अखिलेश के पास कोई नहीं है।

अखिलेश के इर्द-गिर्द रहने वाले और अपने को उनका करीबी बताने वाला हर कोई सिर्फ बड़े-बड़े दावे और लुभाने वाली बातें करता हैं और अखिलेश ऐसे लोगों को पहचान नहीं पा रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT