Tuesday , September 19 2017
Home / Delhi / Mumbai / एमबीबीएस प्रवेश ‘अध्यादेश आदेश लंबित मना

एमबीबीएस प्रवेश ‘अध्यादेश आदेश लंबित मना

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने आज कहा कि केंद्र सरकार की ओर से राज्यों को एमबीबीएस और बीडीएस कोर्सेस में दाखिले के लिए वर्ष 2016 – 17 के लिए अलग एंट्रेंस टेस्ट के अनकझद अनुमति देने केंद्र का अध्यादेश संदिग्ध है लेकिन अदालत ने इस आदेश लंबित जारी करने के लिए एक आवेदन को स्वीकार करने से इनकार कर दिया है।

अदालत ने कहा कि देश की आधी से अधिक राज्य पहले ही यह टेस्ट आयोजित कर चुकी हैं। न्यायमूर्ति एआर दावे ‘जस्टिस एके गोयल और न्यायमूर्ति शिव कीर्ति सिंह युक्त एक पीठ ने कहा कि यह दुखद है कि सरकार ने राज्यों को अलग एंट्रेंस पकड़ अध्यादेश जारी कर दिया है हालांकि इस सिलसिले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश पहेली से मौजूद थे।

बादी दृष्टया में अदालत का मानना है कि इस अध्यादेश की अवधारण संदिग्ध है। अदालत ने विभिन्न एंट्रेंस टेस्टों के सफल उम्मीदवारों की केंद्रीय परामर्श भी आवेदन स्वीकार नहीं की है और कहा कि आधे से अधिक राज्यों ने अपने टेस्ट आयोजित कर लिए हैं। सुप्रीम कोर्ट में आनंद राय की याचिका की सुनवाई हो रही थी। आनंद राय ने ही मध्य प्रदेश में व्यापम अस्क़ाम का पर्दाफाश किया था। उनका कहना था कि केंद्र सरकार ऐसा अध्यादेश जारी करने का अधिकार नहीं रखता है, जबकि सुप्रीम कोर्ट की ओर से पहले ही इस संबंध में आदेश जारी कर दिए गए थे।

TOPPOPULARRECENT