Sunday , October 22 2017
Home / Sports / ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका को 6 विकेट से हराया

ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका को 6 विकेट से हराया

दांबुला: जॉन हेस्टिंग्स (6/45) की घातक गेंदबाजी के बाद जॉर्ज बेले (नाबाद 90 ) और एरॉन फिंच (55) की तूफानी पारी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम ने बुधवार को रणगिरी दांबुला अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में हुए चौथे अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय मैच में श्रीलंका को छह विकेट से हरा दिया. इसके साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने पांच मैचों की सीरीज में 3-1 की अजेय बढ़त हासिल कर ली.

मेजबान श्रीलंका ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में सभी विकेट गंवा कर 212 रन बनाए, जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने 31 ओवरों में चार विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया. छोटे से लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम को अच्छी शुरुआत मिली. हालांकि पहले ओवर में कोई रन नहीं मिला. इसकी भरपाई फिंच ने दूसरे ओवर में की. उन्होंने अमिला अपोंसो पर लगातार चार चौके जड़े. इसके बाद वह रुके नहीं. दोनों ने मिलकर चार ओवरों में टीम का स्कोर 54 तक पहुंचा दिया.

सचिथा पाथिराना ने छठें ओवर में 74 के कुल योग पर फिंच को पवेलियन भेज इस साझेदारी को तोड़ा. फिंच को सचिथा की फिरकी पर पगबाधा करार दिया गया. फिंच ने अपनी तूफानी पारी में 19 गेंदों पर आठ चौके और तीन छक्के जड़े और ऑस्ट्रेलिया के सबसे तेज अर्धशतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए.

x

इसी स्कोर पर उस्मान ख्वाजा (0) भी पवेलियन लौट गए. ख्वाजा को भी पगबाधा करार दिए गए. दूसरे छोर पर खड़े डेविड वार्नर (19) भी 97 के कुल स्कोर पर सचिथा का तीसरा शिकार बने.

हालांकि इसके बाद बेले और ट्रेविस हेड (40) ने टीम को संभाला. दोनों ने चौथे विकेट के लिए 100 रनों की साझेदारी कर टीम के जीत की दहलीज पर पहुंचा दिया. सचिथा और दिलरुवान परेरा ने हालांकि अपनी फिरकी से इन दोनों को परेशान जरूर किया, लेकिन वह इन दोनों बल्लेबाजों को आउट करने में नाकाम रहे. परेरा ने 197 के कुल स्कोर पर हेड को पवेलियन भेजा. उनकी जगह आए मैथ्यू वेड (नाबाद 8) ने छक्का लगाकर टीम को जीत दिलाई.

इससे पहले मेजबान टीम ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के सामने लड़खड़ा गई. उसने 31 रनों पर ही अपने शीर्ष तीन बल्लेबाज गांवा दिए. सलामी बल्लेबाज धनंजय डी सिल्वा (76) ने कप्तान एंजेलो मैथ्यूज (40) के साथ पारी को संभाला और स्कोर 115 तक पहुंचा दिया, लेकिन इस बीच मैथ्यूज को रन लेते वक्त मांसपेशियों में खिंचाव के चलते रिटायरमेंट लेना पड़ा.

मैथ्यूज के जाने के बाद ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने मेजबानों को टिकने नहीं दिया और लगातार अंतराल पर विकेट लेते रहे. डी सिल्वा ने अपनी पारी में 87 गेंदें खेली और नौ बार गेंद को सीमारेखा के पार पहुंचाया. आठवां विकेट गिरने के बाद मैथ्यूज दोबारा बल्लेबाजी करने लौटे और पारी की आखिरी गेंद पर आउट हुए.

TOPPOPULARRECENT