Sunday , August 20 2017
Home / International / ओबामा और कितने मुस्लिम देशों पर बमबारी करेंगे: फिल्म निर्देशक ओलिवर स्टोन

ओबामा और कितने मुस्लिम देशों पर बमबारी करेंगे: फिल्म निर्देशक ओलिवर स्टोन

57fd0a54c36188ff078b460b

मशहूर फिल्म निर्देशक ओलिवर स्टोन ने कहा है कि बराक ओबामा एक राष्ट्रपति के रूप में जॉर्ज डब्लयू. बुश से अधिक अच्छे नहीं हैं। उन्होंने कहा है कि ओबामा बुश की तुलना में अधिक कठोर हैं और इनके शासनकाल में राज्य को दोगुनी निगरानी झेलनी पड़ रही है। पेरिस में एएफपी सामाचार एजेंसी से 70 वर्षीय ओलिवर ने कहा कि यह दशक पहले की तुलना में अधिक जटिलता और मुश्किलों से घिरा रहा। ओलिवर इन दिनों अपनी फिल्म ‘स्नोडेन’ की प्रचार को लेकर यूरोप दौरे पर हैं।

उन्होंने कहा कि मैं एक बार उनके ऑफिस गया तो बुश की तुलना में उन्हें अधिक कुशल कमांडर के तौर पर देखा। लेकिन आमतौर पर वही पुरानी कहानी दोहराई जा रही है कि हम हमले की जद में, हम पर किसी भी समय हमला हो सकता है। ओलिवर ने कहा कि ओबामा ने वादा किया था कि वो पहले की बनाई हुईं शोषण वाली नीतियों से हटकर काम करेंगे, पर सत्ता में आते ही उन्हीं हिंसक नीतियों का अधिक प्रसार किया जिसको अमेरिका पहले से करता आ रहा है।

‘वॉल स्ट्रीट’, ‘जेएफके’ और ‘प्लाटून’ जैसी फिल्मों के निर्देशक ओलिवर ने कहा कि ओबामा के भीतर स्वतंत्र संवाद और आलोचना की सहनशीलता अपने पूर्ववर्तियों की तुलना में कम है। उन्होंने ने कहा कि सच्चाई को लेकर ओबामा ने लोगों को गुमराह किया है।

ओलिवर में एमेनेस्टी इंटरनेशनल को दिए अपने एक इंटरव्यू में कहा कि पत्रकारों पर अत्याचार करने के मामले में ओबामा अमेरिकी इतिहास में अभी तक के सबसे दमनकारी व्यक्ति हैं। उन्होंने अब तक आठ ह्विसल्ब्लोअर के खिलाफ मामला बनाने का प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि ओबामा ने बुश से अधिक झुठ बोला है और हर समय बोला है।

ओलिवर ने कहा कि ओबामा ने इस बात का भरोसा दिलाया है कि संयुक्त राज्य अमेरिका विश्व पर अपने प्रभूत्व की रणनीति से पीछे नहीं हटने वाला। दुनिया पर कंट्रोल रखने की यह अमेरिकी लालसा बेहद खतरनाक है।  एक भी ऐसा ऐतिहासिक रिकॉर्ड नहीं है जब ऐसा हुआ है। किसी एक साम्राज्य को भी यह सफलता अब तक नहीं मिली है। ब्रिटिश साम्राज्य ने कोशिश की थी पर अंत में उसने भी बड़े पैमाने पर युद्ध को अंजाम दिया। अमेरिका की क्रुरता का लालसा का अंत भी शर्मनाक होगा।

तीन बार ऑस्कर विजेता ओलिवर ने लीबिया, सीरिया और इराक अमेरिकी हस्तक्षेप का हवाला देते हुए कहा कि अमेरिका नेन जाने कितने युद्धों को बिना मतलब के लड़ा है? ओबामा ने कितने मुस्लिम देशों पर बमबारी की? न जाने कितने ड्रोन हमलों से निर्दोश लोगों की हत्या की गई है? उन्होंने कहा कि फिल्म ‘स्नोडन’ बनाने के पीछे की मंशा यही है कि इन मानाधिकार उलंघनों को सामने लाया जाए। मुझे नहीं लगता कि आम जनता अभी तक स्नोडेन के खुलासे को समझ पाई है।

उन्होंने उसके आगे कहा कि अमेरिकी लोगों को अपने ऊपर रखे जाने इतने बड़े पैमाने पर निगरानी, ड्रोन युद्धों और साइबर युद्धों के बारे में चिंतित होना चाहिए, जिसे स्नोडेन ने उजागर किया था। अमेरिकी एनएसए अधिकारी रहे एडवर्ड स्नोडेन ने 2013 में अमेरिका के कई खुफिया दस्तावेजों को लिक किया था। फिलहाल वो भूमिगत हैं।

TOPPOPULARRECENT