Sunday , September 24 2017
Home / Hyderabad News / ओवरसीज़ स्कालरशिपस स्कीम से कोई मुस्तहिक़ महरूम नहीं होगा

ओवरसीज़ स्कालरशिपस स्कीम से कोई मुस्तहिक़ महरूम नहीं होगा

हैदराबाद 09 सितंबर: डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर मुहम्मद महमूद अली ने यकीन दिया के ओवरसीज़ स्कालरशिप स्कीम से कोई भी मुस्तहिक़ अक़लियती तालिब-इल्म महरूम नहीं रहेगा।

हज हाउज़ में मीडीया के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर ने वाज़िह किया के ओवरसीज़ स्कालरशिप स्कीम के लिए अहल उम्मीदवारों का इंतेख़ाब अभी बाक़ी है और उसूली तौर पर कोई दरख़ास्त क़बूल या मुस्तर्द नहीं की गई।

उन्होंने सेक्रेटरी अक़लियती बहबूद सय्यद उम्र जलील और डायरेक्टर अक़लियती बहबूद जलालुद्दीन अकबर से मुशावरत के बाद वाज़िह किया कि बहुत जल्द इस स्कीम के बारे में आला सतही मीटिंग मुनाक़िद होगा जिसमें दरख़ास्तों का अज़ सर-ए-नौ जायज़ा लेते हुए मुस्तहिक़ तलबा का इंतेख़ाब किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि हुकूमत इस स्कीम के तहत ज़्यादा से ज़्यादा अक़लियती तलबा को फ़ायदा पहुंचाना चाहती है और ज़रूरत पड़ने पर हुकूमत मज़ीद बजट जारी करने भी तैयार है। उन्होंने कहा कि एसे तलबा जिन्हों ने तमाम शराइत की तकमील के साथ मुक़र्ररा मुद्दत में दरख़ास्तें दाख़िल कीं और बैरून-ए-मुल्क रवाना हो गए उन्हें मायूस होने की ज़रूरत नहीं।

दरख़ास्तों का जायज़ा लेने और अहल पाए जाने पर उन्हें स्कालरशिप की रक़म जारी की जाएगी। उन्होंने कहा कि हुकूमत इस बात को यक़ीनी बनाना चाहती हैके अक़लियती तलबा हक़ीक़ी और नामवर यूनीवर्सिटीज़ में दाख़िला लें। अक्सर ये शिकायात मिली हैंके बाज़ यूनीवर्सिटीज़ में दाख़िला के लिए कोई भी अहलीयत की ज़रूरत नहीं और एसी यूनीवर्सिटीज़ की डिग्री ख़ुद उन ममालिक में काबिल-ए-क़बूल नहीं।

सेक्रेटरी अक़लियती बहबूद सय्यद उम्र जलील ने वाज़िह किया कि दरख़ास्तों की वसूली के बाद शराइत की तकमील के एतेबार से 280 उम्मीदवारों को शॉर्ट लिस्ट किया गया था। उन्होंने 86 दरख़ास्तों को मुस्तर्द किए जाने से लाइलमी का इज़हार करते हुए इस सिलसिले में मुताल्लिक़ा ओहदेदारों से बात करने का तयक़्क़ुन दिया। उन्होंने कहा कि इस स्कीम के तहत जो शराइत मुदव्वन किए गए हैं उनकी तकमील हर उम्मीदवार पर लाज़िम है।

TOPPOPULARRECENT