Friday , September 22 2017
Home / India / UP : ओवेसी के मास्टर प्लान से खट्टे होंगे विरोधी पार्टियों के दांत

UP : ओवेसी के मास्टर प्लान से खट्टे होंगे विरोधी पार्टियों के दांत

वाराणसी. विधानसभा चुनाव के लिए सियासी दांव-पेंच लगने शुरू हो चुके हैं। सपा-बसपा के बाद अब ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम ने भी एसी रणनीति अपनाई है कि है कि सपा, बसपा, भाजपा समेत सभी पार्टियों के दांत खट्टे हो जायेंगे। प्रदेश अध्यक्ष के मुताबिक सपा को मुस्लिम कार्ड तो भाजपा-बसपा को वह हिंदू व दलित कार्ड से पीछे छोड़ने की तैयारी कर रही है। ओवैसी की पार्टी के बढ़ते रसूख का ही असर है कि पार्टी में टिकट लेने वालों की बाढ़ सी आ गई है। अगर पार्टी इसी गति से आगे बढ़ती रही तो विधानसभा चुनाव में अच्छे दलों के भी दांत खट्टे कर देगी। सपा को सबसे अधिक नुकसानआल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुस्लेमीन के सक्रिय होने के बाद सबसे अधिक नुकसान सपा को होता दिख रहा है। अबतक मुस्लिम मतदाता कांग्रेस अथवा सपा के पाले में नजर आते थे, लेकिन जिस तरह से ओवैसी की पार्टी सोशल मीडिया पर सक्रिय हुई है, उससे सपा को सबसे अधिक नुकसान होता दिख रहा है। बहरहाल आने वाले दिनों में स्थिति और साफ हो जाएगी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

दरअसल, एआईएमएमआईएम ने यूपी चुनाव के लिए सारी गुणा-गणित कर ली है। पार्टी का मानना है कि वह उन सीटों पर अधिक फोसक करेगी जहां मुस्लिम मतदाता जीत-हार को तय करेंगे। इसके लिए सीटों का ग्राफ भी तैयार कर लिया गया है। पार्टी अपने क्षेत्र में पकड़ रखने वाले हिंदू चेहरों को भी टिकट देगी, जिससे कि उसकी जीत सुनिश्चित हो सके। पार्टी का मानना है कि यूपी में दलित कार्ड के नाम पर सिर्फ धोखा हुआ है। ऐसे में पार्टी इसे प्रमुखता से उठाएगी।

आल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुस्लेमीन के प्रदेश अध्यक्ष शौकत महुली ने बताया कि वर्तमान में प्रदेश में 110 ऐसी सीट हैं, जहां मुस्लिम मतदाताओं की वोट प्रतिशत 30 से 39 प्रतिशत है। 44 सीट ऐसी हैं जहां ये वोट प्रतिशत बढ़कर 40 से 49 प्रतिशत तक पहुंच जाता है। 11 सीट ऐसी है जहां मुस्लिम मतदाता 50 से 65 प्रतिशत तक हैं। शौकत ने बताया कि पार्टी में टिकट का फैसला ओवैसी करेंगे, लेकिन पार्टी यूपी में अधिक से अधिक सीट पर चुनाव लड़ेगी।  50 से अधिक सीटों पर फार्म बंट गएशौकत महुली ने बताया कि पार्टी में टिकट लेने वालों की कतार लगी हुई है। 50 से अधिक सीटों पर चुनाव लड़ने के इच्छुक कार्यकर्ता फार्म ले गए हैं। अब वे फार्म भरकर बॉयो़डाटा के साथ देंगे। शौकत ने बताया कि पार्टी अच्छे दलित चेहरों को मैदान में उतारेगी।

TOPPOPULARRECENT