Friday , October 20 2017
Home / Khaas Khabar / ओवैसी और मुलायम सिंह यादव आमने सामने

ओवैसी और मुलायम सिंह यादव आमने सामने

मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लमीन (एमआईएम) ने उत्तर प्रदेश के आइंदा विधानसभा इंतेखाबात में उतरने का ऐलान कर दिया। जुमेरात के रोज़ यूपी में परतावल के कोटवा वाके खेल मैदान में मुनाकिद पहली आवामी इजलास में पार्टी के खास मेहमान और चारमीना

मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लमीन (एमआईएम) ने उत्तर प्रदेश के आइंदा विधानसभा इंतेखाबात में उतरने का ऐलान कर दिया। जुमेरात के रोज़ यूपी में परतावल के कोटवा वाके खेल मैदान में मुनाकिद पहली आवामी इजलास में पार्टी के खास मेहमान और चारमीनार हैदराबाद के एमएलए सैय्यद अहमद पासा कादरी ने कहा कि आज हिंदुस्तान में मुसलमानों को दलितों से भी नीचा समझा जाता है।

यही हालात रहे तो मुसलमानों का आने वाले दिनों में और भी बुरा हाल होगा। लिहाजा यूपी के मुसलमान एक हो जाएं और आइंदा इंतेखाबात में अपने भाई को वोट दीजिए।

उन्होंने कहा कि आपने सपा, बसपा, कांग्रेस व भाजपा को देख लिया। सभी पार्टियों ने मुसलमानों के साथ छल और कपट किया है। क्योंकि जहां भी मुसलमान भाई रहता है वफादारी के साथ काम करता है। मुल्क के लिए सबसे पहले मुसलमानों ने वफादारी की। लाल किला मुसलमान ने बनवाया, ताजमहल भी मुसलमान ने ही बनवाया। हमारे वफादारी का सबूत है कि हमें मरने के बाद भी दो गज जमीन मिलती है।

कादरी ने कहा कि यूपी की हुकूमत का एक वज़ीर अपने आपको मुसलमानों का मसीहा कहते हैं, लेकिन यूपी में उनके काम करने की मुद्दत में जितने दंगे फंसाद हुए बेगुनाह मुसलमान ही मारे गए। पुलिस ने उनके घर को लूटा, लेकिन मुसलमानों के हमदर्द इस वज़ीर ने कोई रद्दे अमल ज़ाहिर नहीं किया। उन्होंने कहा कि मुसलमानों के लिए हम गर्दन कटवाने को तैयार हैं। उन्होंने अपनी उंगली तक नहीं कटवाई।

हैदराबाद के साबिक चेयरमैन माजिद हुसैन ने कहा कि सोने की चिड़िया कहा जाने वाले हिंदुस्तान की किस्मत खराब है कि चाय बेचने वाला मुल्क का पीएम है और झाड़ू बेचने वाला दिल्ली का सीएम है। ऐसे में हिंदुस्तान की तरक्की कैसे होगी।

उन्होंने कहा कि यूपी की अखिलेश सरकार पहले मुसलमान नौजवानो को बम ब्लास्ट में फंसाती है, फिर जांच कराती है और बाइज्जत रिहा कराकर उन्हें मुआवजा देकर अपने को मुसलमानों का हमदर्द बनाती है, लेकिन नौजवान मुसलमानों का मुस्तकबिल खराब कर देती है।

उन्होंने कहा कि आज मुसलमान नौजवानो को सेहत , तालीम का हुकूक दिलाने की लड़ाई एमआईएम के क़ौमी सदर असदुद्दीन ओवैसी लड़ रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT