Saturday , October 21 2017
Home / Delhi News / ओवैसी को मिला कांग्रेस का साथ, बीजेपी को अब भी भरोसा नहीं

ओवैसी को मिला कांग्रेस का साथ, बीजेपी को अब भी भरोसा नहीं

नई दिल्ली। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (AIMIM) के मुखिया और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी किसी पहचान के मोहताज नहीं है. वो अक्सर अपने बेबाक बयानों के लिए जाने जाते हैं. हाल ही में उन्होंने हैदराबाद से गिरफ्तार किए 5 संदिग्ध आतंकियों को कानूनी मदद देने का ऐलान किया था. लेकिन कल उन्होंने देश के मुस्लिम युवाओं को बड़ा संदेश दिया है.

उन्होंने आतंकी संगठन ISIS को इंसानियत का दुश्मन बताते हुए दुनिया का सबसे बड़ा खतरा बताया है. यही नहीं उन्होंने मुस्लिम युवाओं से मुल्क के साथ रहने सलाह दी है. आम तौर पर ओवैसी की छवि एक मुस्लिम कट्टरपंथी नेता की रही है, जिनपर हमेशा भड़काऊ बयान देने का आरोप लगता रहता है. लेकिन इस बार ओवैसी ने अपनी छवि के उलट बयान दिया है. उन्होंने आतंकी संगठन आईएसआईएस की निंदा करते हुए देश के मुसलमानों को उससे दूर रहने की सलाह दी है.

ओवैसी का ये बयान ऐसे समय में आया है जब कुछ दिन पहले ही उन्होंने हैदाराबाद के गिरफ्तार किए गए पांच संदिग्ध आतंकियों को कानूनी मदद देने का ऐलान किया था. उन पांचों को नेशनल इंव्सेटिगेटिव एजेंसी यानि NIA ने आईएसआईएस से जुड़े होने के संदेह पर गिरफ्तार किया था.

इस मामले में हैदराबाद के एक वकील ने ओवैसी पर केस दर्ज करते हुए आरोप लगाया था कि वो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से वो आईएसआईएस को बढ़ावा दे रहे हैं. लेकिन आईएसआईएस के खिलाफ ओवैसी के ताजा बयान से उनके आलोचकों को फिर सोचना पड़ सकता है.

औवैसी ने कहा, ‘’जिन लोगों ने रोजा नहीं रखा उन्हें रक्का में कत्ल किया गया ऐसे लोग को काट देना चाहिए. मैं एलान करता हूं कि अगर किसी मुसलमान को अबू बकर बगदादी मिल गया तो उसके टुकड़े टुकड़े कर दिए जाएंगे.’’

यही नहीं ओवैसी ने मुसलमानों को हथियार न उठाने की अपील करते हुए गरीबों की मदद करने की अपील की है. औवेली ने कहा, ‘’मुसलमान हथियार नहीं उठाओ, जिहाद करना है तो हथियार न उठाओ. गरीबो को बढ़ाओ गरीब बच्चियों की शादी कराओ. यही जिहाद है.’’

ओवैसी के इन ताजा बयानों को बीजेपी गंभीरता से नहीं ले रही. उनका कहना है कि ओवैसी पर भरोसा करना मुश्किल है. लेकिन ओवैसी को इस मुद्दे पर कांग्रेस का साथ मिला है.

TOPPOPULARRECENT