Wednesday , October 18 2017
Home / Hyderabad News / ओहदा की तलब चिरंजीवी दिल्ली में मसरूफ़

ओहदा की तलब चिरंजीवी दिल्ली में मसरूफ़

हैदराबाद 21 दिसमबर (सियासत न्यूज़ ) तहरीक अदमे इअतिमाद के मौक़ा पर हुकूमत की ताईद के ज़रीया अपनी एहमीयत में इज़ाफ़ा करने वाले चिरंजीवी इन दिनों अपनी ताईद का फल हासिल करने दिल्ली में सरगर्म हैं । वो कांग्रेस आला कमान के वाअदे के मुत

हैदराबाद 21 दिसमबर (सियासत न्यूज़ ) तहरीक अदमे इअतिमाद के मौक़ा पर हुकूमत की ताईद के ज़रीया अपनी एहमीयत में इज़ाफ़ा करने वाले चिरंजीवी इन दिनों अपनी ताईद का फल हासिल करने दिल्ली में सरगर्म हैं । वो कांग्रेस आला कमान के वाअदे के मुताबिक़ मर्कज़ी काबीना में शमूलीयत और रियास्ती काबीना में अपने हामी अरकान असम्बली को जगह दिलाने दबाव डाल रहे हैं ।

ज़राए ने बताया कि चिरंजीवी चाहते हैं कि वाअदे के मुताबिक़ उन के अरकान असम्बली को आंधरा प्रदेश काबीना में शामिल कियाजाए इस के इलावा सरकारी इदारों पर प्रजा राज्यम से कांग्रेस में शामिल हुए क़ाइदीन को तर्जीह दी जाय ।कांग्रेस ने चिरंजीवी को मर्कज़ी काबीना में शामिल करने का वाअदा किया था लेकिन गुज़शता इतवार को सिर्फ एक वज़ीर को ही काबीना में शामिल किया गया ।

चिरंजीवी के हामीयों को उम्मीद थी कि अजीत सिंह के साथ चिरंजीवी को भी वज़ीर की हैसियत से हलफ़ दिलाया जाएगा लेकिन उन्हें मायूसी हुई । बताया जाता है कि चिरंजीवी से कहा गया है कि नए साल में वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह अपनी काबीना में रद्दोबदल करेंगे । इस मौक़ा पर चिरंजीवी को शामिल किया जाएगा ।

तहरीक अदमे इअतिमाद में हुकूमत की कामयाबी के बाद रियास्ती काबीना में बड़े पैमाने पर तबदीलीयों की पेश क़ियासी की जा रही है । ऐसे में चिरंजीवी चाहते हैं कि इन के कम अज़ कम पाँच अरकान असम्बली को काबीना में शामिल किया जाय । वो तेलंगाना आंधरा और राइलसीमा से नुमाइंदगी दीए जाने के हक़ में है । बताया जाता है कि चीफ़ मिनिस्टर ने उन्हें तयक्कुन दिया कि काबीना में तौसीअ के वक़्त उन से मुशावरत के बाद ही प्रजा राज्यम के वुज़रा के नामों को क़तईयत दी जाएगी ।

चिरंजीवी रियासत के कम अज़ कम 20 सरकारी इदारों पर अपने हामीयों को सदर नशीन की हैसियत से नामज़द करना चाहते हैं । चिरंजीवी के ज़राए ने बताया कि वो कांग्रेस आली कमान से राज्य सभा और कौंसल की एक नशिस्त अलॉट करने का मुतालिबा कररहे हैं । वो उल्लू अरवीनद को राज्य सभा और क़ानूनसाज़ कौंसल में के विद्या धर राव को नुमाइंदगी दिलाना चाहते हैं ।

उन के हामी सी रामचंद्र या कौंसल केलिए मुंतख़ब होचुके है । अब जबकि आइन्दा साल मार्च में राज्य सभा की मख़लवा नशिस्तों केलिए इंतिहा बात होंगे और हुकूमत जगन के चार हामी कौंसल अरकान को नाअहल क़रार देने की तैय्यारी कररही है लिहाज़ा इन दोनों इदारों की नशिस्तों पर भी चिरंजीवी की नज़र है।

TOPPOPULARRECENT