Thursday , October 19 2017
Home / Business / कई तेलंगाना कांग्रेस अरकान असबमली क़ीमती कारों के मालिक बन गए

कई तेलंगाना कांग्रेस अरकान असबमली क़ीमती कारों के मालिक बन गए

हैदराबाद 1 नवमबर (सियासत न्यूज़ ) अलहदा तेलंगाना तहरीक से अगरचे अभी तक अवाम को कोई फ़ायदा नहीं पहुंचा लेकिन कांग्रेस के तेलंगाना अरकान असबमली रातों रात लाखों रुपय मालियती गाड़ीयों के मालिक बन गए । तेलंगाना तहरीक में हिस्सा लेने ते

हैदराबाद 1 नवमबर (सियासत न्यूज़ ) अलहदा तेलंगाना तहरीक से अगरचे अभी तक अवाम को कोई फ़ायदा नहीं पहुंचा लेकिन कांग्रेस के तेलंगाना अरकान असबमली रातों रात लाखों रुपय मालियती गाड़ीयों के मालिक बन गए । तेलंगाना तहरीक में हिस्सा लेने तेलंगाना के नाम पर इस्तीफ़ा या टी आर ऐस में शमूलीयत से रोकने और नवंबर से शुरू होने वाले रचा बंडा प्रोग्राम में शिरकत को यक़ीनी बनाने केलिए हुकूमत तेलंगाना अरकान असबमली पर कुछ ज़्यादा ही मेहरबान है ।

अब तो सूरत-ए-हाल यूं है कि कोई भी रुकन असबमली टी आर ऐस में शमूलीयत की धमकी दे कर भी लाखों रुपय मालियती गाड़ी का मालिक बन सकता है । बावसूक़ ज़राए के मुताबिक़ चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी की निगरानी में तेलंगाना अरकान असबमली को पार्टी से वाबस्ता रखने केलिए एक मंसूबा तैय्यार किया गया जिस के तहत हर रुकन असबमली को 25 लाख रुपय मालियती टोयोटा फ़ार चूनर गाड़ी बतौर तोहफ़ा पेश करने का फ़ैसला किया गया । तक़रीबन 10 से ज़ाइद अरकान असबमली को ये तोहफ़ा हवाले करदिया गया है ।

तेलंगाना अगरचे पसमांदा हैं और यहां के अवाम कई मसाइल का शिकार और सीमा आंधरा के मुक़ाबले कम तरक़्क़ी याफ़ता हैं लेकिन यहां के अवामी नुमाइंदे अब लाखों रुपय मालियती क़ीमती गाड़ीयों में घूमते नज़र आयेंगी । बताया जाता है कि तेलंगाना मसला पर पार्टी के मौक़िफ़ से नाराज़ तेलंगाना अरकान असबमली को पहले मरहला में निशानदेही करते हुए ये गाड़ियां बतौर तोहफ़ा हवाले की गई हैं ।

तोहफ़ा क़बूल करने वाले अरकान असबमली ख़ुद भी ये बताने से क़ासिर हैं कि किस ने ये तोहफ़ा दिया है । क़ीमती गाड़ीयों के तोहफ़े का ये मुआमला आने वाले दिनों में तनाज़ा बन सकता है । बताया जाता है कि जिन हलक़े जात के अरकान असबमली को ये तोहफ़ा पहुंच गया इन में आलीर देवर कुंडा शादनगर हसन आबाद महबूबाबाद विरुद्धना पेट गोपाल पली मीड़चल नकरीकल और आलिम पर शामिल हैं ।

इन अरकान असबमली से कहा गया है कि वो रचा बंडा प्रोग्राम में हिस्सा लें । चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी ने इस प्रोग्राम को अपने लिए वक़ार का मसला बनालिया है और इस क़ीमती तोहफ़े के बाद कई अरकान असबमली ने खुल कर रचा बंडा प्रोग्राम में हिस्सा लेने का ऐलान किया है ।

बताया जाता है कि अरकान असबमली की मक़बूलियत और सीनयारीटी के लिहाज़ से क़ीमती गाड़ियां हवाले करने का फ़ैसला किया गया ।जो रुकन असबमली जिस क़दर मज़बूत होगा उसे इस क़दर क़ीमती तोहफ़ा दिया जा सकता है । अगर किसी को फ़ार चूनर पसंद ना हूँ तो उसे हो नडाई बी ऐम डब्लयू और वॉल्वो गाड़ीयों की पेशकश की जा रही है । इन गाड़ीयों की मालियत उल-तरतीब 30 लाख 0ता 50 लाख और 60 लाख रुपय है ।

इस तरह कांग्रेस हुकूमत क़ीमती गाड़ीयों का तोहफ़ा देकर अपने अरकान को क़ाबू में रखना चाहती है । क़ीमती गाड़ीयों के तोहफ़ा की इत्तिलाआत मिलने पर सीमा आंधरा के कांग्रेस अरकान असबमली में मायूसी देखी गई । इन का कहना था कि काश हम भी तेलंगाना से ताल्लुक़ रखते तो लाखों रुपय मालियती गाड़ीयों के मालिक होते ।

सीमा आंधरा के अरकान असबमली भी इस तरह के तोहफ़ा के हुसूल केलिए कोई हिक्मत-ए-अमली तैय्यार करसकते हैं । पसमांदा तेलंगाना इलाक़ा के अरकान असबमली के साथ हुकूमत की इस मेहरबानी को देखने के बाद कहा जा सकता है कि आने वाले दिनों में तेलंगाना के गावं में भी क़ीमती गाड़ियां घूमती नज़र आयेंगी ।

TOPPOPULARRECENT