Tuesday , October 17 2017
Home / District News / करीमनगर रेलवे लाईन केलिए अनक़रीब फंड्स की मंज़ूरी

करीमनगर रेलवे लाईन केलिए अनक़रीब फंड्स की मंज़ूरी

(सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) करीमनगर , हैदराबाद, हुस्नप्रति । करीमनगररेलवे लाईन सर्वे के तहत अनक़रीब फंड्स की मंज़ूरी होगी।

(सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) करीमनगर , हैदराबाद, हुस्नप्रति । करीमनगररेलवे लाईन सर्वे के तहत अनक़रीब फंड्स की मंज़ूरी होगी।
एम पी पूनम प्रभाकर ने यहां आर ऐंड बी गेस्ट हाउज़‌ में अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए इस बात से वाक़िफ़ करवाया।
उन्हों ने कहा कि मर्कज़ी हुकूमत महकमा वज़ारत रेलवे शोबा(डीपार्टमेंट्)की जानिब से नई रेलवे लाईन की मंज़ूरी होचुकी है।
सर्वे के लिए अनक़रीब फंड्स मुख़तस किए जाने के लिए इक़दामात किए जा रहे हैं। साबिक़ वज़ीर-ए-आज़म नरसिम्हा राउ ने पदापली । निज़ामाबाद रेलवे लाईन का संग-ए-बुनियाद रखा था। साल गुज़श्ता सब से ज़्यादा 120 करोड़ रुपय फंड्स की मंज़ूरी हासिल की गई थी।
पूनम प्रभाकर ने कहा कि रेलवे प्रोजेक्ट् की तामीर में मुक़र्ररा मुद्दत पर तकमील काफ़ी मुश्किल है। कामों की तकमील के लिए ज़िम्मे दाराना एहसास ज़रूरी है।
ज़िला से रेलवे को बहुत ज़्यादा आमदनी होरही है। फिर भी फंड्स मुख़तस करनेमंज़ूरी और इजराई में मुश्किलात पेश आरही हैं। इस तरीका-ए-कार में तबदीली के लिए कोशिश की जा रही है। जारीया माह की 15 को मर्कज़ी वज़ीर रेलवे के साथ इजलास में आंधरा प्रदेश के सभी अरकान-ए-पार्लीमैंट बिलख़सूस तेलंगाना के अरकान-ए-पार्लीमैंट इस इलाक़ा की तरक़्क़ी के सिलसिला में हर मुम्किना दबाउ डालने की कोशिश करेंगे।
ताहाल क़ौमी शाहराहों प्रोजेक्ट्स् रेलवे वग़ैरा के ताल्लुक़ से नाइंसाफ़ी होरही है। आइन्दा ऐसा ना होना चाहीए। चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी को कोशिश करनी होगी। तेलंगाना के हुसूल की जद्द-ओ-जहद जारी है ऐसे में इस
इलाक़ा की तरक़्क़ी चीफ़ मिनिस्टर की ज़िम्मेदारी होगी।
चीफ़ मिनिस्टर लापरवाही का मुज़ाहरा करेंगे तो सीयासी वाबस्तगी के बगै़र एहतिजाज शुरू करदिया जाएगा। अपनी सीयासी बर्क़रारी(बचाउ) केलिए चंद्रा बाबू नायडू अरकान-ए-पार्लीमैंट पर बेजा तन्क़ीदें कर रहे हैं।
हम बहैसीयत अरकान-ए-पार्लीमैंट यू पी ए हुकूमत से अपने हलक़ों कीतरक़्क़ी के लिए और दीगर प्रोजेक्ट्स् के लिए फंड्स की मंज़ूरी करवाते हुएजारी भी करवा रहे हैं। हिम्मत हौसला हो तो चंद्रा बाबू नायडू हमारे ख़िलाफ़
बरसर-ए-आम साबित करें कि उन्हों ने जो इल्ज़ाम लगाया है वो सही है।
इसतरह अरकान-ए-पार्लीमैंट की हौसलाशिकनी करना उन के लिए मुनासिब नहीं है।
एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि शराब सिंडीकेट के मरहला वार हक़ाइक़्सामने आरहे हैं। यहां भी वो बहुत जल्द सामने आजाना ज़रूरी है। सीयासी क़ाइदीन इस में शामिल होने के इल्ज़ामात आरहे हैं कहने पर इसी के साथ
मीडीया भी शामिल है। ये इल्ज़ामात भी सामने आरहे हैंया उस प्रैस कान्फ़्रैंस में सी पी आई सैक्रेटरी वाई सुनील राउ, साबिक़मैंबर डी शंकर कन्ना कृष्णा कई सदर, अर्बन बैंक चेयरमैन, शेखर दीगर क़ाइदीन इंजनी प्रसाद , गुंडे, महेश , इसके मुहसिन, भूमिया वग़ैरा शरीक थे।

TOPPOPULARRECENT