Monday , October 23 2017
Home / India / कर्नाटक के अवाम मादनियाती लुटेरों से सख़्त नाराज़: सी पी आई (एम एल, लिबरेशन)

कर्नाटक के अवाम मादनियाती लुटेरों से सख़्त नाराज़: सी पी आई (एम एल, लिबरेशन)

रांची, 10 अप्रेल: सी पी आई (एम एल, लिबरेशन) ने आज एक अहम बयान देते हुए कहा कि वो केरला असेम्बली इलेक्शन में 10 नशिस्तों पर मुक़ाबला करेगी और ये तवक़्क़ो भी करती हैकि इंतिख़ाबात में कारकर्दगी इतमीनान बख़्श होगी। पार्टी के क़ौमी जनरल सेक्रे

रांची, 10 अप्रेल: सी पी आई (एम एल, लिबरेशन) ने आज एक अहम बयान देते हुए कहा कि वो केरला असेम्बली इलेक्शन में 10 नशिस्तों पर मुक़ाबला करेगी और ये तवक़्क़ो भी करती हैकि इंतिख़ाबात में कारकर्दगी इतमीनान बख़्श होगी। पार्टी के क़ौमी जनरल सेक्रेटरी दीपंकर भट्टाचार्य ने अख़बारी नुमाइंदों से बात करते हुए कहा कि हम ने कर्नाटक असेम्बली इंतिख़ाबात में 10 नशिस्तों पर मुक़ाबला करने का फ़ैसला किया है जिन में बेल्लारी, गंगा दरी, मैसूर का शहरी और देही इलाक़ा और बैंगलूर शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि जिन मुक़ामात का ज़िक्र किया गया है वहां के अवाम मौजूदा हुकूमत से सख़्त नाराज़ हैं और चाहते हैं कि रियासत में मादनियात के चोरों से जितनी जल्द छुटकारा हासिल किया जाये इतना ही अच्छा होगा। अपनी बात जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि पार्टी ने बहुत क़लील अर्से में मक़बूलियत के तमाम रेकॉर्ड्स तोड़ दिए हैं और अवाम का रुजहान भी पार्टी की जानिब नज़र आता है।

पार्टी ने फ़ैसला किया हैकि वो नौजवानों के हुक़ूक़ के लिए लड़ेगी और साथ ही साथ मज़दूरों, ख़वातीन, क़बाईलों, दलितों और ग़रीबों के हुक़ूक़ को भी तहफ़्फ़ुज़ फ़राहम किया जाएगा। मौजूदा हुकूमत में सब लुटेरे हैं और रियासत की मादिनी ताक़त का सरका करते हुए ख़ुद अपनी तिजोरियां भर रहे हैं। पार्टी की मक़बूलियत का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता हैकि पार्टी ने अपने पोलीट ब्यूरो अरकान की तादाद 17 करदी है जबकि मर्कज़ी कमेटी के अरकान की तादाद 59 करदी गई है।

उन्होंने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि अगर कोई भी बाएं बाज़ू की जमात बिहार, झारखंड में किसी भी इलाक़ाई पार्टी से माक़बल या माबाद इंतिख़ाबात सयासी मुफ़ाहमत करेगी तो इस से बाएं बाज़ू की जमातों का इत्तिहाद मुतास्सिर होगा। उन्होंने मज़ीद कहा कि पार्टी के 22 वीं यौम तासीस के मौक़े पर पार्टी अरकान इन ही मदऊ के साथ जो 9 वीं कांग्रेस के दौरान उठाए गए थे, मवाज़आत, मसतक़रात और शहरों का एक माह तवील दौरा करते हुए इंतिख़ाबी मुहिम चलाएंगे जबकि दिल्ली में मर्कज़ी कमेटी के सहि रोज़ा इजलास का आग़ाज़ 25 मई से होगा।

TOPPOPULARRECENT