Tuesday , October 24 2017
Home / Kashmir / कश्मीरी पंडित वापस आयें, हम सुरक्षा देंगे: हिजबुल मुजाहिदीन

कश्मीरी पंडित वापस आयें, हम सुरक्षा देंगे: हिजबुल मुजाहिदीन

श्रीनगर: आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन ने प्रवासी कश्मीरी पंडितों, जो सन् 1990 में घाटी में उग्रवाद बढ़ने के बाद पलायन करने के लिए मजबूर हो गए थे, से कहा है कि वे अपने घरों को लौट आयें | संगठन ने उन्हें संरक्षण देने का वादा किया, और यह भी कहा कि वह सिख युवकों का एक समूह बनाने के लिए योजना बना रहा है ।

 

“हम कश्मीरी पंडितों से अपने घरों को लौटने के लिए अनुरोध करते हैं । हम उनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी लेते हैं,” आतंकवादी संगठन के कमांडर जाकिर राशिद भट उर्फ ‘मूसा’ ने कल जारी एक संक्षिप्त वीडियो संदेश में कहा।

 

घाटी में उग्रवाद बढ़ने पर, इससे पीड़ित होने के कारण हजारों की संख्या में कश्मीरी पंडित पलायन कर गए थे | वे तबसे जम्मू और देश के विभिन्न हिस्सों में रह रहे हैं |

 

“उन्हें उन पंडितों को देखना चाहिए जिन्होंने कभी कश्मीर नहीं छोड़ा। क्या किसी ने उन्हें परेशान किया या मार डाला? ” मारे गए आतंकवादी बुरहान वानी के ‘उत्तराधिकारी’ ने कहा।

 

सैन्य वर्दी पहने और वीडियो में हाथ में ग्रेनेड लिए, भट्ट, जो पंजाब के एक कॉलेज से इंजीनियरिंग की पढ़ाई छोड़ कुछ साल पहले हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल हो गया था, उसने यह भी तर्क दिया कि मुसलमानों को निशाना बनाने के लिए एक रणनीति के तहत पंडितों को घाटी से बाहर करने की योजना बने गयी थी ।

 

उसने दावा किया कि सरकार ने पंजाब में ‘ऑपरेशन ब्लू स्टार’ की तर्ज पर घाटी में भी ऑपरेशन की कार्यवाही करने के लिए योजना बनाई थी।

 

भट्ट ने 1.38 मिनट के वीडियो बताया है कि वह उग्रवादी संगठन में सिख युवकों के एक विशेष समूह बनाने की योजना बना रहा है |

 

“हमारे सिख भाइ हमसे हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल होने के लिए अनुरोध कर रहे हैं … हम हर मोर्चे पर उन लोगों के साथ हैं और अगर अल्लाह की इच्छा रही, हम संगठन में सिखों के लिए एक विशेष समूह बनाने की कोशिश करेंगे,” उसने कहा।

TOPPOPULARRECENT