Tuesday , October 17 2017
Home / Kashmir / कश्मीर में सुरक्षा स्थिति पर सरकार के खिलाफ विपक्ष का विरोध

कश्मीर में सुरक्षा स्थिति पर सरकार के खिलाफ विपक्ष का विरोध

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा की स्थिति पर सरकार की आलोचना करते हुए विपक्षी नेशनल कांफ्रेंस ने कई सवाल उठाए और विधानसभा में हंगामा किया। विपक्ष ने सरकार को दोषी ठहराते हुए कहा कि वह सीमा चौकसी में विफल है इसके जवाब में सरकार ने कहा कि राज्य को पाकिस्तान की मौन युद्ध का सामना। यह कोई मामूली लॉ एंड ऑर्डर की समस्या नहीं है। पिछले सप्ताह सीआरपीएफ काफिले पर आतंकी हमला पृष्ठभूमि में समस्या को उठाते हुए नेशनल कांफ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला ने सरकार से इस बारे में बयान देने की मांग की और कहा कि सरकार ने इस तरह की आतंकवादी गतिविधियों को रोकने के लिए क्या कदम उठाए हैं कि सदन को सूचित किया।

घाटी में लोगों की सुरक्षा के लिए सरकार ने क्या कोशिश की है इस सदन को अवगत कराना चाहिए। उत्तर में उप मुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने सदन को आश्वासन दिया कि वह कल इस संबंध में एक विस्तृत बयान देंगे। यह कोई लॉ एंड ऑर्डर की समस्या नहीं है बल्कि सीमा पार से एक गुप्त युद्ध की जा रही है। इस मामले में हम केंद्र से संपर्क रखे हुए हैं। हम चाहते हैं कि राज्य में अमरनाथ यात्रा और सियाचिन सीजन को शांतिपूर्ण बनाने की कोशिश की जाए।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने सतर्कता अपनाया है। उमर अब्दुल्ला ने कहा कि अब अच्छी बात है कि सरकार को अमरनाथ श्रद्धालुओं और पर्यटकों की सुरक्षा की चिंता है। इस राज्य में रहने वाले लोगों की सुरक्षा के बारे में भी सोचना चाहिए। अमरनाथ यात्रा एक महीने में पूरी हो जाएगी। सियाचिन मौसम भी 2 महीने में खत्म हो जाएगा। साल भर तक राज्य की जनता की सुरक्षा का क्या होगा खासकर उन नागरिकों के जीवन का क्या होगा जो सीमावर्ती क्षेत्रों में रहते हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री जम्मू-कश्मीर ने कहा कि अगर विधानसभा का सत्र जारी है। सुरक्षा मसले पर सरकार चुप्पी साध रखी है। आज हम मीडिया के जरिए बहुत सी बातें पता चली हैं और बताया गया है कि सीमा पर घुसपैठ की घटनाओं में वृद्धि हुई है। एक रिपोर्ट में बताया गया है कि सड़क उद्घाटन समारोह से सीआरपीएफ को हटाया गया है और दूसरी खबर यह है कि बीएसएफ को काउंटर विद्रोही ड्यूटी से वापस मांग लिया गया है इस में बकवास सच्चाई क्या है? सरकार को जानकारी प्रदान करनी चाहिए।

TOPPOPULARRECENT