Sunday , October 22 2017
Home / District News / कांग्रेस दौर-ए-इक्तदार में किसान , मालिक से मज़दूर बन गए

कांग्रेस दौर-ए-इक्तदार में किसान , मालिक से मज़दूर बन गए

निज़ामाबाद, १६ दिसम्बर: ( मुहम्मद जावेद अली की रिपोर्ट)किसानों के मसाइल को हल करने में रियास्ती हुकूमत नाकाम साबित होचुकी है लिहाज़ा हुकूमत को इक़तिदार पर रहने का कोई हक़ हासिल नहीं है हुकूमत को इक़तिदार से बेदख़ल

निज़ामाबाद, १६ दिसम्बर: ( मुहम्मद जावेद अली की रिपोर्ट)किसानों के मसाइल
को हल करने में रियास्ती हुकूमत नाकाम साबित होचुकी है लिहाज़ा हुकूमत को
इक़तिदार पर रहने का कोई हक़ हासिल नहीं है हुकूमत को इक़तिदार से बेदख़ल
करने केलिए ही तेलगुदेशम पार्टी ने असैंबली में तहरीक अदम एतेमाद पेश
किया था। कांग्रेस पार्टी के 7 साला दौर में ज़रई शोबा को ज़बरदस्त
नुक़्सान हुवा है।आफ़ात समावी के मौक़ा पर किसानों की इमदाद करने में
हुकूमत मुकम्मल तौर पर नाकाम साबित हुई है। इन ख़्यालात का इज़हार सदर
तलगोदीशम मिस्टर एन चंद्रा बाबू नायडू ने आज ज़िला निज़ाम आबाद के भसा
पुर, गवीनद पेट और दीगर मुक़ामात पर किसानों और अवामी जलसों से मुख़ातब
करते हुए किया । मिस्टर चंद्रा बाबू नायडू आदिलाबाद से निज़ामाबाद पहुंचने
पर भसा पुर अराकान-ए-असैंबली अना पूर्व नुमा, मांडवा वेकेट्शवर् राव् ,
ऐम एल सी अरकला नरसारीडी , सदर ज़िला तेलगुदॆशम‍ओ‍ एम एल सी वे जी गौड़ के
इलावा दीगर ने इन का ज़बरदस्त ख़ैर मुक़द्दम किया । भसा पर किसान बड़े पैमाने
पर मिस्टर चंद्रा बाबू नायडू का इस्तिक़बाल करते हुए हल्दी की फ़सल को
बताया और हल्दी की इमदादी क़ीमत और हल्दी बोर्ड के क़ियाम में हुकूमत पर
लापरवाही बरतने का इल्ज़ाम आइद किया। मिस्टर चंद्रा बाबू नायडू ने भसा
पुर, गोवीनद पेट के इलावा गोवीनद पेट से जिक्र इन पली तक 11 किलो मीटर
पैदल चलते हुए दरमयान में खेतों में किसानों से बातचीत की । ज़िला
निज़ामाबाद के आरमोर हलक़ा में हल्दी की फ़सल सब से ज़्यादा काशत की जाती
है और हल्दी की फसलों को नाकाफ़ी पानी की वजह से फ़सलें तबाह हो रही है।
चंद्रा बाबू नायडू मौज़ा गवीनद पेट में किसानों के जलसों को मुख़ातब करते
हुए कहा कि चीफ़ मिनिस्टर और वुज़रा को ज़रई शोबा से कोई दिलचस्पी नहीं है
और मौजूदा चीफ़ मिनिस्टर ज़रई शोबा से मुकम्मल तौर पर नावाक़िफ़ हैं।

तुख़्म और खाद की क़ीमतों में छः माह के दौरान छः मर्तबा इज़ाफ़ा किया । पैट्रोल और
डीज़ल की क़ीमतों में 25 मर्तबा इज़ाफ़ा किया गया।जिस की वजह से क़ीमतों में
इज़ाफ़ा के इलावा ट्रांसपोर्ट के अख़राजात में बेतहाशा इज़ाफ़ा हुआ। किसान
मुल्क़ से जाकर मज़दूर हो गए हैं। कांग्रेस इक़तिदार में आने से क़बल 9 घंटे
बर्क़ी सरबराह करने का ऐलान किया और इस से इन्हिराफ़ करते हुए तीनता चार
घंटे बर्क़ी सरबराह किया जा रहा है । तलगोदीशम इक़तिदार पर आने पर बुलाव
क़ुफ़्फ़ा 9 घंटे बर्क़ी सरबराह करने का ऐलान किया । अगर तेलगू देशम पार्टी
अपने इंतिख़ाबी मंशूर में मुफ़्त बर्क़ी सरबराही को शामिल करती तो आज
इक़तिदार से महरूम नहीं रहती थी। हल्दी के किसानों को कम अज़ कम 15 हज़ार
रुपय फ़ी कुंटल देने , हल्दी बोर्ड के क़ियाम और लाल ज्वार के किसानों के
बकाया जात की अदायगी और उन पर दायर करदा तमाम केसों को दस्तबरदार करने
हुकूमत को से मुतालिबा किया ।चीफ़ मिनिस्टर की पेशी में वुज़रा के मकानों
में तारीकी है तो रियासत में क्या बर्क़ी सरबराही की जाएगी ।

हुकूमत की नाकामी की ये ज़िंदा मिसाल है हुकूमत की नाकामी पर तलगोदीशम पार्टी ने
असैंबली में तहरीक अद मॆं एतिमाद पेश किया तो कांग्रेस ने हुकूमत को
बचाने के ख़ातिर एम एल ए और पार्टीयों को पैकेज देते हुए हुकूमत को बचा
लिया लेकिन तेलगुदेशम पार्टी अवामी मसाइल पर अपनी जद्द-ओ-जहद को जारी रखी
हुई है उन्हों ने किसानों के मसाइल के हल केलिए स्वामी नाथम कमेटी की
सिफ़ारिशात पर अमल आवरी करने का मुतालिबा किया । किसानों के मसाइल पर क़ौमी
सतह पर मुहिम चलाने के लिए 8 पार्टीयों की ताईद हासिल की गई है असैंबली
और पार्लीमैंट में इन मसाइल को उठाकर किसानों के साथ जद्द-ओ-जहद को जारी
रखने का इरादा ज़ाहिर किया। इस मौक़ा पर अरकान असैंबली मांडवा वेंकटेश्वर
राव्, अन्ना पूर्णिमा ने भी मुख़ातब किया उस जलसा में ज़िला तेलगुदेशम सदर
वे जी गौड़, एम एल सी नरसारीडी के इलावा तेलगुदेशम क़ाइदीन ए दयाकर राव्,
के श्री हरी, तेलगुदेशम पार्टी स्टेट सैक्रेटरी एस ए अलीम, ज़िला
अक़ल्लीयती सेल सदर नवेद इक़बाल,तलगोदीशम क़ाइदीन एन वीनू गोपाल राव्,
मुहम्मद नज़ीर, बदर उद्दीन पाशाह,मुहम्मद उसमान , मुहम्मद रफ़ी,यूनुस
अक़बानी और दीगर भी मौजूद थें।चंद्रा बाबू नायडू के दौरा के मौक़ा पर आरमोर
के मामड़ी पल्ली चौरस्ता पर कोड़ीपाका पर महबान तेलंगाना की जानिब से जुए
तेलंगाना के नारे लगाते हुए टमाटर और अंडे क़ाफ़िला पर फेंके गए ।किसानों
को खेतों में चंद्रा बाबू नायडू का ज़बरदस्त इस्तिक़बाल करते हुए अपने
मसाइल को सुनाते हुए देखा गया। मीडीया को फ़ोटो कशी करना भी मुश्किल
होरहा थाजिस पर मीडीया ने एहतिजाज करने पर तलगोदीशम क़ाइदीन ने माज़रत
ख़्वाही की।

TOPPOPULARRECENT