Sunday , October 22 2017
Home / Hyderabad News / काबीनी मीटिंग से 7 वुज़रा गैर हाज़िर

काबीनी मीटिंग से 7 वुज़रा गैर हाज़िर

आंध्र प्रदेश काबीना के आज हैदराबाद में मुनाक़िदा मीटिंग में 7 वुज़रा मुख़्तलिफ़ वजूहात के बाइस शिरकत नहि किये। काबीना कि मीटिंग तकरीबन तीन माह के वक़फे के बाद और मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी के वज़ारत आला के दो साल की तकमील से दो दिन प

आंध्र प्रदेश काबीना के आज हैदराबाद में मुनाक़िदा मीटिंग में 7 वुज़रा मुख़्तलिफ़ वजूहात के बाइस शिरकत नहि किये। काबीना कि मीटिंग तकरीबन तीन माह के वक़फे के बाद और मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी के वज़ारत आला के दो साल की तकमील से दो दिन पहले मुनाक़िद हुआ।

वज़ीर इमारात-ओ-शवारा धर्मना प्रसाद राउ जिन्हों ने वानपेक पोर्ट लैंड स्क़ाम में सी बी आई की तरफ से चार्ज शीट की पेशकशी के बाद /14 अगस्त को अपना स्तीफ़ा पेश करदिया था, काबीना मीटिंग से दूर रहे ताहम उन्हों ने अपने का बीनी रफ़क़ा को एक खत रवाना करते हुए ज़मीन के अलाटमैंट के मामले में अपनी बेगुनाही का इस्तिदलाल पेश किया।

इस खत में उन्हों ने इद्दिआ किया कि मज़कूरा मामले में उन्हों ने अपने तौर पर कोई फैसला नहीं किया था। तमाम उमूर उस वक़्त किए गए का बीनी फैसलों के ताबे थे।

वज़ीर भारी सनअतें डाक्टर जय गीता रेड्डी के बारे में बताया गया कि वो सत्य साई बाबा की यौम पैदाइश तक़ारीब में हिस्सा लेने पट्टा प्रति गई हुई हैं।

वज़ीर बराए मादनियात मिसिज़ जी अरूना कुमारी अपनी दुख़तर से मुलाक़ात के लिए अमरीका गई हुई हैं जबकि वज़ीर सियोल स्पलाईज़ डी सिरीधर बाबू रियासत के बाहर एक गैर मालना निजी दौरा पर हैं और उन्हें काबीना कि मीटिंग की इत्तिला नहीं होपाई है। वो /16 नवंबर को ही अपने निजी दौरा पर रवाना होचुके थे जबके का बीनी मीटिंग के बारे में सिर्फ़ तीन चार दिन पहले ही तए किया गया था।

वज़ीर के एक मुआविन ने इद्दिआ किया कि हम उन्हें मीटिंग के बारे में मतला नहीं करसके चूँके उन से राबिता नहीं होसका। वज़ीर बराए फ़रोग़ इनफ़रास्ट्रक्चर जी सिरे निवास राउ भी मीटिंग में शिरकत नहि किये।

उन की अदम शिरकत की वजेह मालूम नहीं होसकी। वज़ीर माल मिस्टर एन रग्घू वीरा रेड्डी इन दिनों अपने आबाई ज़िले अनंतपुर में एक आबपाशी पराजकट की तकमील की ख़ुशी में पदयात्रा कररहे हैं।

वज़ीर दाख़िला सबीता रेड्डी, वज़ीर बराए स्टैंपस एंड रजिस्ट्रेशन टी नरसमहम और वज़ीर बराए पसमांदा तबक़ात बिस्वा राज सारिया जो रग्घू वीरा रेड्डी से इज़हार यगानगत के लिए गए हुए थे वक़्त पर हैदराबाद नहीं पहुंच पाए

TOPPOPULARRECENT