Thursday , October 19 2017
Home / Bihar News / कार्रवाई ऐसी हो, जिससे पैगाम जाये : वजीरे आला

कार्रवाई ऐसी हो, जिससे पैगाम जाये : वजीरे आला

मैट्रिक इम्तिहान में नक़ल को लेकर जुमा को आला सतही बैठक करने के बाद सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि अखबार में मैंने वैशाली के दो इम्तिहान सेंटरों की तसवीरें देखीं, जिनमें पुलिस के लोग बगल में बैठे हुए थे और लोग खिड़कियों के पास खड़े होकर

मैट्रिक इम्तिहान में नक़ल को लेकर जुमा को आला सतही बैठक करने के बाद सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि अखबार में मैंने वैशाली के दो इम्तिहान सेंटरों की तसवीरें देखीं, जिनमें पुलिस के लोग बगल में बैठे हुए थे और लोग खिड़कियों के पास खड़े होकर नकल करवा रहे थे।

इन तसवीरों को देख कर मैंने इस मामले को संजीदगी से लिया और तालीम वज़ीर, चीफ़ सेक्रेटरी, डीजीपी, दाखला महकमा के प्रिन्सिपल सेक्रेटरी व तालीम महकमा के प्रिन्सिपल सेक्रेटरी को सख्त कार्रवाई की हिदायत दिया। तालीम महकमा के प्रिन्सिपल सेक्रेटरी को बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के साथ बैठ कर मुनासिब फैसला लेने को भी कहा गया है। जहां भी नक़ल हुआ है, वहां की इम्तिहान मंसूख करें और सख्त कार्रवाई करें। कार्रवाई का साफ पैगाम होना चाहिए कि किसी भी कीमत पर नक़ल बरदाश्त नहीं होगा।

वजीरे आला ने कहा कि इंतेजामिया ओहदेदार नक़ल वाले इम्तिहान सेंटरों पर दोबारा जाएं और सख्त कार्रवाई करें। सख्त कार्रवाई नहीं करने वाले और लापरवाही बरतने वाले ओहदेदारों व मुलाज़िम के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जायेगी। सीएम ने कहा कि नकल में मदद देनेवाले गार्जियनों, रिशतेदारों व दोस्तों से दरख्वास्त है कि नकल से काबिलियत नहीं आती। ऐसे सर्टिफिकेट से मुश्ताकबिल की तामीर नहीं होती। तालीम का असल मक़सद जानकारी हासिल करना है। नकल से जानकारी हासिल नहीं होता। नकल करने और कराने से बचना चाहिए। नकल करानेवाले गार्जियन तालिबा का ही नहीं, बल्कि रियासत का भी नुकसान कर रहे हैं। बैठक में सीएम के प्रिन्सिपल सेक्रेटरी डीएस गंगवार, सेक्रेटरी चंचल कुमार व ओएसडी गोपाल सिंह मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT