Sunday , August 20 2017
Home / International / काला धन का खुलासा करो, आराम की नींद सो जाये

काला धन का खुलासा करो, आराम की नींद सो जाये

टोक्यो: काला धन रखने पर अपना पक्ष सही न लेने के मामले में ‘कठोर कठिनाइयों’ की चेतावनी देते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि गैरमहसोब संपत्ति रखने वालों को अगर वे आराम की नींद सोना चाहते हैं तो बुधवार सीमित अवधि के लिए शुरू हो रही योजना से लाभ चाहिए। आय डेक्लेरेशन‌ स्कीम 2016 के तहत चार महीने के लिए विशेष छूट का पहली मई से शुरू हो रहा है। इसके तहत अंतर्देशीय काला धन रखने वाले अपनी के धन पर टैक्स और जुर्माना कुल मिलाकर 45 प्रतिशत भुगतान करते हुए इसे नियमित बना सकते हैं।

अरुण जेटली ने कि इस विंडोासकैम एक जून से शुरू हो रही है और गैरमहसोब संपत्ति रखने वालों के लिए उनकी सलाह यही है कि इस घोषणा और करों का भुगतान करें, फिर आराम की नींद सोजाएँ। अन्यथा खुलासे अधिकतम जनता के सामने लाया जाएगा और उनकी परेशानियों बढ़ जाएंगी।

अरुण जेटली इस समय जापान के छह दिवसीय दौरे पर हैं। उन्होंने कहा कि यह सुविधा केवल कंपनियों को ही नहीं बल्कि जनता के लिए भी है जिनके पास गीरमहसोब संपत्ति हैं। उन्होंने कहा कि जब काला धन कानून बाहरी संपत्ति के बारे में कानून स्वीकृती किया गया तब उन्होंने कहा था कि कृपया अपने संपत्ति की घोषणा कर दें और आराम की नींद सोजाएँ। अगरानखों ने ऐसा नहीं किया, उनके नाम जनता के सामने पेश कर दिए जाएंगे चाहे वह पनामा क्लिप में हों या कहीं और।

वे समझते हैं कि अब उनकी रातों की नींद हराम हो जाएगी। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने रिजर्व बैंक गवर्नर रघोराम राजन पर आलोचनाओं की निंदा की और कहा कि समस्याओं और नीतियों के बारे में चर्चा होनी चाहिए, व्यक्तियों के बारे में नहीं। हालांकि उन्होंने राजन की अवधि में विस्तार के संबंध में टिप्पणी नहीं की। उनकी तीन साल का कार्यकाल इस साल सितंबर में समाप्त हो रहा है।

TOPPOPULARRECENT