Friday , August 18 2017
Home / India / कावेरी विवाद पर अपमानजनक खबर प्रसारित करने से बचने की टेलीविजन चैनलों को चेतावनी

कावेरी विवाद पर अपमानजनक खबर प्रसारित करने से बचने की टेलीविजन चैनलों को चेतावनी

TOPSHOT - A police personnel canes a motorcyclist during a curfew following violence in the city due to the Cauvery water sharing dispute with neighbouring state Tamil Nadu, in Bangalore on September 13, 2016. Prime Minister Narendra Modi appealed for calm September 13, in the Indian tech hub of Bangalore which has been placed under curfew after deadly violence erupted over a long-running dispute with a neighbouring state over access to water. / AFP PHOTO / MANJUNATH KIRAN

बेंगलूर: कर्नाटक और तमिलनाडु के बीच कावेरी जल विवाद और हिंसा को देखते हुए बेंगलुरु पुलिस ने टेलीविजन चैनलों को सलाह दी है कि दंगों जैसी हिंसक घटनाओं की तस्वीरें न दिखाई जाएं। पुलिस कमिश्नर एनएस मीघारक ने केबल टेलीविजन नेटवर्क (विनियमन) अधिनियम 1995 के तहत समाचार चैनलों और स्थानीय केबल ऑपरेटरों को जारी सलाह में आगजनी, दंगा और हमले जैसे अपमानजनक घटनाओं को प्रसारित न करने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि ऐसी प्रसारण अप्रिय घटनाएं आ सकते हैं। उन्होंने साथ ही चेतावनी किया है कि “सलाह का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ संबंधित अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जा सकता है”।

उन्होंने कहा कि चैनलों को कावेरी जल विवाद से संबंधित तथ्यों का उचित सत्यापन के बाद ही सावधानीपूर्वक से खबर का प्रसारण जिम्मेदारी निभानी चाहिए और यही सद्भाव बनाए रखने के लिए जनता के हित में है। सूचना एवं प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडू ने कल नई दिल्ली में कावेरी जल बंटवारे पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मद्देनजर कर्नाटक और तमिलनाडु के लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की थी।

उन्होंने टीवी समाचार चैनलों से भी अपील की थी कि हिंसा की खबर सावधान रूप में दी जाए। उपायुक्त डी रणदीव ने बताया कि केरल के लिए बस सेवा निलंबित नहीं किया गया है हालांकि तमिलनाडु जाने वाली बसों का संचालन लगातार दूसरे दिन भी ठप है ज़िले में हालात सामान्य होने लगे हैं और जल्द ही स्कूल और कॉलेज खोले जाएंगे .नीम बलों सहित राज्यों पुलिस के जवानों ने इलाके में आज सुबह फ्लैग मार्च किया। इस दौरान लोगों को घरों से निकलने की अनुमति नहीं दी गई है। राज्य के गृह मंत्री जी परमेश्वर ने शहर के एगान दिल्ली सहित हिंसा से प्रभावित इलाकों का दौरा कर हालात का जायजा लिया उन्होंने बताया कि पुलिस कमिश्नर स्थिति में सुधार के बाद क्षेत्र से पूरी तरह कर्फ्यू हटाने के बारे में अंतिम फैसला करेंगे।

TOPPOPULARRECENT