Friday , October 20 2017
Home / Hyderabad News / किशनबाग़ फ़साद मुतासरीन को सियासत की इमदाद

किशनबाग़ फ़साद मुतासरीन को सियासत की इमदाद

किशनबाग़ के फ़सादज़दा इलाक़ा अर्श महल में सियासत मिल्लत फ़ंड की तरफ से इमदाद तक़सीम की गई। फ़साद से मुतास्सिरा इस इलाके में पिछ्ले तीन रोज़ से कर्फ्यू नाफ़िज़ करदिया गया है और अवाम परेशान हाल हैं।

किशनबाग़ के फ़सादज़दा इलाक़ा अर्श महल में सियासत मिल्लत फ़ंड की तरफ से इमदाद तक़सीम की गई। फ़साद से मुतास्सिरा इस इलाके में पिछ्ले तीन रोज़ से कर्फ्यू नाफ़िज़ करदिया गया है और अवाम परेशान हाल हैं।

फ़साद से मुतास्सिरा इस इलाके में बे यार-ओ-मददगार अवाम में सियासत मिल्लत फ़ंड की तरफ से अजनास की तक़सीम अमल में लाई गई।

आमिर अली ख़ान न्यूज़ एडीटर रोज़नामा सियासत ने एडीटर सियासत ज़ाहिद अली ख़ान की ख़ुसूसी हिदायत पर 5 सौ मकानात में अजनास तक़सीम किए और फ़र्दन फ़र्दन अवाम की दहलीज़ तक पहोनचकर उनकी ख़ैरियत दरयाफ़त की।

परेशान हाल अवाम को दिलासा दिया आमिर अली ख़ान न्यूज़ एडीटर रोज़नामा सियासत ने फ़साद मुतासरीन से उनके हालात के बारे में तफ़सीली बात चीत की और काफ़ी वक़्त फ़साद मुतासरीन के साथ गुज़ारा। इस मौके पर आमिर अली ख़ान के हमराह दक्कन वक़्फ़ प्रापर्टीज़ के क़ाइद उसमान बिन मुहम्मद अलहाजरी और दुसरे मौजूद थे।

न्यूज़ एडीटर सियासत ने पुलिस फायरिंग में हलाक होने वाले अफ़राद के ख़ानदानों से मुलाक़ात की और मुकम्मिल इज़हार यगानगत करते हुए उन्हें इस बात का तीक़न दिलाया कि सियासत उन के साथ है। उन्होंने वाजिद अली उर्फ़ वली और शुजाउद्दीन ख़तीब उर्फ़ तौफ़ीक़ के अफ़रादे ख़ानदान को मश्वरा दिया कि वो हालात मामूल आने के बाद रोज़नामा सियासत से अपनी इमदाद हासिल करले।

उन्होंने फी कस 50 हज़ार रुपये देने का एलान किया और शुजाउद्दीन ख़तीब के अफ़रादे ख़ानदान से तफ़सीली बात चीत की और उन्हें सब्र-ओ-तहम्मुल से काम लेने का मश्वरा दिया और माली इमदाद फ़राहम करने का तीक़न दिया।

सियासत मिल्लत फ़ंड की तरफ से अर्श महल में तकरीबन 500 ख़ानदानों में इमदाद तक़सीम की गई और मज़ीद मदद का तीक़न दिया गया। मुतास्सिरा ख़ानदानों ने आमिर अली ख़ान को इलाके में देख कर उनके अतराफ़ जमा होगए और अपने मसाइल को पेश किया। अवाम ने मसाइल और उन पर ढाए गए ज़ुलम-ओ-सितम की दास्तान पेश की और इंसाफ़ दिलाने की ख़ाहिश की। वाजिद अली उर्फ़ वली की वालिदा और शुजाउद्दीन ख़तीब की वालिदा अपनी बिप्ता सुनाते हुए रोईपड़ें और पुलिस की ज़्यादतियों का तज़किरा क्या। इस मौके पर उसमान अलहाजरी और उनके साथियों ने सियासत मिल्लत फ़ंड की तरफ से अंजाम दिए गए इमदादी कामों में हिस्सा लिया।

TOPPOPULARRECENT