Monday , October 23 2017
Home / District News / किसानों की मुआवज़ा रक़म का ग़बन पुलिस में एग्रीकल्चर ऑफीसर के ख़िलाफ़ शिकायत

किसानों की मुआवज़ा रक़म का ग़बन पुलिस में एग्रीकल्चर ऑफीसर के ख़िलाफ़ शिकायत

( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) कोबीर मंडल में साल 2009-10 के दौरान काश्तकारों की फ़सलें पानी की कमी की वजह से तबाह होगई थी और फसलों को काफ़ी नुक़्सान होगया था । जिस की वजह से किसान बहुत परेशान थे । उन्हों ने हुकूमत से फ़सलें तबाह होने पर मुआव

( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) कोबीर मंडल में साल 2009-10 के दौरान काश्तकारों की फ़सलें पानी की कमी की वजह से तबाह होगई थी और फसलों को काफ़ी नुक़्सान होगया था । जिस की वजह से किसान बहुत परेशान थे । उन्हों ने हुकूमत से फ़सलें तबाह होने पर मुआवज़ा अदा करने का मुतालिबा किया था जिस पर हलक़ा असेंबली मधोल के छः मंडलों में हुकूमत ने तहक़ीक़ात करवाते हुए इस इलाक़ा के जिन किसानों की फ़सलें तबाह हुई हुकूमत की जानिब से 5 हज़ार करोड़ रुपयां मुआवज़ा के तौर पर अदा करने एग्रीकल्चरल अस्सिटेंट डायरेक्टर भैंसा मांगी लाल के हवाले किया था लेकिन चंद एक मुतास्सिरीन(पीडीतों) को मुआवज़ा अदा करते हुए मुआमला ख़तम‌ करदिया गया लेकिन मुआवज़ा से महरूम किसानों ने कई मर्तबा धरने-ओ-रास्ता रोको एहतेजाज मुनज़्ज़म किया लेकिन मांगी लाल ADA ने कहा कि मुतास्सिरा किसानों के लिए जो रक़म आई थी वो तमाम तक़सीम करदी गई और बाक़ी रक़म हुकूमत की जानिब से मंज़ूरी आने पर दुबारा जारी की जाएगी ।

इस तरह वर्षा (MPTC)कोबीर ने AAD भैंसा मांगी लाल से कई मर्तबा नुमाइंदगी की कि कोबीर मंडल के किसानों को अभी तक फ़सलें जो ख़राब हो गई है इस का मुआवज़ा अदा नहीं किया गया लेकिन ADA ने साफ़ इनकार करते हुए कहा कि जितने लोगों को हुकूमत की जानिब से मंज़ूरी आई थी उन लोगों को मुआवज़ा की रक़म तक़सीम करदी गई ।

इस के जवाब पर वर्षा MPTC ने मुतमइन नहीं हुई और उन्हों ने इस की मालूमात की ख़ातिर क़ानून हक़ मालूमात के तहत एक दरख़ास्त दाख़िल करते हुए उस की तफ़सीलात हासिल की । इस बिना पर इंक्वायरी के दौरान ये मालूम हुआ कि कोबीर मंडल के कई किसानों के नाम तो दर्ज हैं लेकिन उन्हें उस की रक़म अदा नहीं की गई जिस की बिना पर कमिशनर एग्रीकल्च्रल‌ ने तहक़ीक़ात करवाते हुए असल बात का पता चलाया जिस के बाद ज्वाइंट डायरेक्टर एग्रीकल्चर मिस्टर चकरा धारी ने एक टीम के साथ भैंसा का दौरा करते हुए ADA मांगी लाल के ख़िलाफ़ किसानों के एक लाख 74 हज़ार रुपया ग़बन करने का इल्ज़ाम लगाते हुए एक शिकायत पुलिस स्टेशन में दर्ज करवाई जिस में एक ओहदेदार सीनीयर अस्सिटेंट ख़लील अहमद के भी मुलव्वस होने का शुबा ज़ाहिर किया जा रहा है । इस तरह फ़ौरी असर के साथ मांगी लाल और ख़लील अहमद को बरतरफ़ करदिया गया है । इस तरह ज्वाइंट डायरेक्टर एग्रीकल्चर कचरा धारी की तहरीरी दरख़ास्त पर पुलिस ने एक केस रजिस्टर्ड करते हुए तहक़ीक़ात का आग़ाज़ करदिया । इस तरह इस अहम राज़ के ईफ़शा पर हुकूमत के बनाए गए क़ानून हक़ मालूमात के तहत मंज़रे आम पर आया वर्ना ये राज़ एक राज़ ही बन कर रह जाता ।

TOPPOPULARRECENT