Monday , September 25 2017
Home / Featured News / UP: किसान ने खेत में लगाई फांसी, क़र्ज़ से था परेशान

UP: किसान ने खेत में लगाई फांसी, क़र्ज़ से था परेशान

8f2380a6fr1

देश में किशानो के आत्महत्या का सिलसिला थम नहीं रहा है। उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड में एक किसान ने अपने ही खेत में फांसी लगाकर जान दे दी|ललितपुर जिले के देवरान गांव का किसान गोविंद दास सहरिया ने सूखे से बर्बाद हुई फसल और कर्ज की वजह से फांसी लगा ली।मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है|गोविंद के पास डेढ़ एकड़ खेत था|पिछले तीन-चार सालों से कभी ओलावृष्टि,कभी सूखा पड़ने से फसल बर्बाद हो रही थी और गोविंद पर साहूकारों का कर्जा बढ़ता जा रहा था|इस बार सूखे की वजह से गोविंद की लागत के मुताबिक गेहूं की फसल नहीं हो पाई थी।

घर वाले और गांववालो के मुताबिक गोविन्द दास के ऊपर करीब डेढ़ लाख रुपये का कर्जा हो गया था जो लगातार बढ़ता ही जा रहा था, इस बार सूखे के हालात को देखते हुए मृतक किसान ने अपने खेत पर ही दो कुएं खुदवाए,लेकिन वो भी सूख गए थे। गोविंद दास खेती के साथ साथ मनरेगा में भी मजदूरी कर अपने परिजनों का पेट भरने की कोशिश कर रहा था| लगातार साहूकारों के पैसा मांगने की वजह से गोविंद दास काफी परेशान था जिसके बाद बर्बाद फसल और कम पैदावार देख हताश किसान ने आम के पेड़ से फांसी लगाकर जान दे दी|

TOPPOPULARRECENT