Wednesday , July 26 2017
Home / Delhi News / कुलभूषण जादव समेत पाक जेल में बंद भारतीयों के लिए भारत ने कांसुलर एक्सेस की मांग की

कुलभूषण जादव समेत पाक जेल में बंद भारतीयों के लिए भारत ने कांसुलर एक्सेस की मांग की

नई दिल्ली। भारत और पाकिस्तान ने अपनी जेलों में बंद एक-दूसरे देशों के कैदियों की लिस्ट आपस में साझा की। इस दौरान भारत ने कुलभूषण जाधव और हामिद नेहाल अंसारी समेत पाकिस्तानी जेलों में बंद भारतीय नागरिकों के लिए कांसुलर एक्सेस भी देने की मांग की।

ये 18वां मौका है, जब भारत ने कुलभूषण जाधव के लिए कांसुलर एक्सेस मांगी है। उम्मीद जताई जा रही है कि दोनों देशों की ये आपसी पहल कुलभूषण जाधव के लिए राहत की खबर लाएगी।

पाकिस्तान द्वारा सौंपी गई लिस्ट के मुताबिक मौजूदा समय में कुल 546 भारतीय नागरिक पाकिस्तानी जेलों में बंद हैं। इनमें से 52 आम नागरिक हैं, तो 494 मछुवारे।

भारत-पाक के बीच कैदियों की जानकारी की अदला-बदली साल में दो बार 1जनवरी और 1 जुलाई को होती है। ये भारत-पाक के बीच कांसुलर एक्सेस एग्रीमेंट के तहत होता है, जो 21 मई 2008 से प्रभावी है।

भारत सरकार के विदेश मामलों के मंत्रालय ने इस बात की जानकारी दी है कि भारत और पाकिस्तान ने अपनी -अपनी जेलों में बंद पाकिस्तानी और भारतीय नागरिकों की सूची आपस में साझा की है।

इस लिस्ट में उन सभी कैदियों के नाम हैं, जो भारत के होकर पाकिस्तानी जेलों में बंद हैं, या पाकिस्तानी नागरिक होकर भारत की जेलों में बंद हैं।

विदेश मामलों के मंत्रालय ने साथ ही ये भी जानकारी दी है कि भारत ने एक बार फिर से पाकिस्तान के सामने कुलभूषण जाधव का मामला रखा है। भारत ने पाकिस्तान से कुलभूषण जाधव और हामिल नेहाल अंसारी समेत उन भारतीयों को कांसुलर एक्सेस देने की मांग की है, जो पाकिस्तानी जेलों में बिना किसी कानूनी मदद के बंद हैं।

गौरतलब है कि कुलभूषण जाधव को कांसुलर एक्सेस दिए बिना और अपना पक्ष सही तरीके से रखे बिना पाकिस्तान की मिलिट्री कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई है।

TOPPOPULARRECENT