Saturday , October 21 2017
Home / Khaas Khabar / केजरीवाल कुरबान होने तैयार

केजरीवाल कुरबान होने तैयार

आम आदमी पार्टी कन्वीनर अरविंद केजरीवाल ने आज ऐलान किया है कि वो लोकसभा इंतिख़ाबात में वारानसी से चीफ़ मिनिस्टर गुजरात नरेंद्र मोदी से मुक़ाबला के लिए तैयार हैं लेकिन उसी सूरत में ऐसा करेंगे जब अवाम ये ख़ाहिश ज़ाहिर करें। उन्होंने बै

आम आदमी पार्टी कन्वीनर अरविंद केजरीवाल ने आज ऐलान किया है कि वो लोकसभा इंतिख़ाबात में वारानसी से चीफ़ मिनिस्टर गुजरात नरेंद्र मोदी से मुक़ाबला के लिए तैयार हैं लेकिन उसी सूरत में ऐसा करेंगे जब अवाम ये ख़ाहिश ज़ाहिर करें। उन्होंने बैंगलौर में आज दूसरे दिन इंतिख़ाबी मुहिम के दौरान एक रैली से ख़िताब करते हुए ये बात कही। इस रैली में आम आदमी पार्टी के हामियों की कसीर तादाद मौजूद थी जो मख़सूस तर्ज़ की टोपियां पहने हुए थे। उन्होंने बताया कि 23 मार्च को वारानसी में आम आदमी पार्टी की रैली मुनाक़िद होरही है। उस वक़्त उन्हें अवामी ताईद का अंदाज़ा होगा और वो वही करेंगे जो अवाम कहेंगे।

केजरीवाल ने कहा कि ये कोई छोटा मुक़ाबला नहीं। मेरी कोई औक़ात नहीं, ना मेरे पास पैसा है और ना ही अवाम हैं, लेकिन वो ख़ुद को इस लिहाज़ से ख़ुशकिसमत समझते हैं कि उन्हें क़ौम के लिए क़ुर्बानी देने का मौक़ा मिला है जैसा कि भगत सिंह ने दी थी। अरविंद केजरीवाल ने हिन्दी में तक़रीर के दौरान कई बार तंज़िया फ़िक़रे भी कसे और बार बार वो ख़ुद को आम आदमी क़रार दे रहे थे।

उन्होंने बी जे पी विज़ारत-ए-उज़्मा उम्मीदवार पर तन्क़ीद का कोई मौक़ा जाने नहीं दिया और मोदी के तरक़्क़ियाती मॉडल को मीडिया का झूठा मॉडल क़रार दिया। उन्होंने कहा कि मीडिया ने गुज़िश्ता एक साल के दौरान ये तास्सुर देने की कोशिश की कि मोदी जी की क़ियादत में गुजरात ने तरक़्क़ी की है। इस लिए मैंने ख़ुद इस तरक़्क़ी का मुशाहिदा करने का फ़ैसला किया और जब मैंने गुजरात का 10 रोज़ा दौरा किया था तो मुझे सदमा पहूँचा। किसान ये शिकायत कररहे हैं कि उनकी ज़मीन ज़बरदस्ती छीन ली जा रही है और इसे महिज़ एक रुपया फ़ी मीटर के एवज़ सनअती शोबे के हवाले किया जा रहा है।

मोदी जी क़दीम सरमाया दाराना निज़ाम पर अमल पैरा हैं। उन्होंने कहा कि रिश्वत के बगै़र कोई काम अंजाम नहीं पाता, लेकिन हमें गुजरात को करप्शन के मुआमले में शफ़्फ़ाफ़ियत की तारीफ़ करनी चाहिए क्योंकि यहां रिश्वत की शरहें भी मुक़र्रर हैं।

इस दौरान कांग्रेस ने आज कहा कि वो वार नासी हलक़ा से बी जे पी लीडर नरेंद्र मोदी के साथ सख़्त मुक़ाबला यक़ीनी बनाएगी। पार्टी ने किसी बैरूनी उम्मीदवार की नामज़दगी का इमकान भी मुस्तरद नहीं किया।

कांग्रेस जनरल सेक्रेटरी मधु सदन से जब ये पूछा गया कि मोदी के ख़िलाफ़ पार्टी किसे उम्मीदवार मुक़र्रर करने का मंसूबा रखती है तो उन्होंने कहा कि ये उम्मीदवार ख़ाहां मुक़ामी हो या ग़ैर मुक़ामी लेकिन हमने ये फ़ैसला किया है कि मुक़ाबला सख़्त होगा। मुक़ामी उम्मीदवारों में राजेश मिश्रा और अजय राय के नाम लिए जा रहे हैं। कांग्रेस का एक गोशा किसी बाअसर लीडर को यहां से उम्मीदवार नामज़द करने के हक़ में हैं जबकि दीगर मक़बूल शख़्सियत को उम्मीदवार बनाना चाहते हैं।

बी जे पी ने कल रात नरेंद्र मोदी के ताल्लुक़ से तजस्सुस को ख़त्म करते हुए ऐलान किया था कि वो हलक़ा लोक सभा वारानसी से मुक़ाबला करेंगे। मोदी को सीनियर पार्टी लीडर मुरली मनोहर जोशी की जगह ये नशिस्त दी गई है जो ऐसा करने की सख़्त मुख़ालिफ़त कररहे थे। जोशी को कानपूर की लोकसभा नशिस्त से उम्मीदवार बनाया गया है।

TOPPOPULARRECENT